वाराणसी, जेएनएन। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के क्रम में जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा की ओर से भी जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। नामांकन पत्र जमा करने की तिथि 26 जून को सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक निर्धारित है। इसी तारीख को दोपहर तीन बजे से कार्य समाप्ति तक नामांकन पत्रों की जांच होगी। प्रत्याशी 29 जून को सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक पर्चा वापस ले सकेंगे। तीन जुलाई को सुबह 11 बजे से तीन बजे तक मतदान होगा। इसी दिन दोपहर तीन बजे के बाद वोटों की गिनती होगी व परिणाम घोषित होंगे।

जिलाधिकारी की ओर से जारी सार्वजनिक नोटिस तहत विकास भवन स्थित जिला निर्वाचन पंचायत एवं नगरीय निकाय कार्यालय से प्रत्याशी नामांकन पत्र प्राप्त कर सकेंगे। इसका वितरण शुरू हो गया है। 26 जून तक सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक कार्यालय अवधि में इसे प्राप्त किया जा सकेगा। नामांकन पत्र जमा करने से लगायत चुनाव व मतगणना तक की समस्त प्रक्रिया कलेक्ट्रेट स्थित जिला रायफल क्लब से पूरी की जाएगी। जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट पिछड़ा वर्ग महिला के नाम आरक्षित है। यह निर्वाचन आनुपातिक प्रणाली के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा होगा। वाराणसी में जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए 40 सीटों पर निर्वाचित सदस्य ही वोट दे सकेंगे। साथ ही इसी में से निर्धारित आरक्षित वर्ग के प्रत्याशी अध्यक्ष की सीट के लिए दावेदारी कर सकेंगे।

सहायक निर्वाचन अधिकारी के रूप में एडीएम प्रशासन रणविजय सिंह नियुक्त

जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा ने जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के लिए सहायक निर्वाचन अधिकारी के रूप में एडीएम प्रशासन रणविजय सिंह काे नियुक्त किया है। कहा है कि जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संबंधी समस्त प्रक्रिया को पूरी करने के लिए उक्त अधिकारी समक्ष हाेंगे।

शपथ ग्रहण समारोह 18 व 19 जून को : पंचायती राज निदेशालय के आदेश के क्रम में संघटित ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों का शपथ ग्रहण समारोह 18 व 19 जून को होगा। जिला पंचायत राज अधिकारी शाश्वत आनंद सिंह ने बताया कि जिले में प्रथम चरण में संघटित 360 ग्राम पंचायतों में ग्राम प्रधान को शपथ दिलाई जा चुकी है। अब शेष डाफी गांव को छोड़ 333 ग्राम पंचायतों के प्रधानों को शपथ तय तिथि को दिलाई जाएगी। बताया जा रहा है कि डाफी में ग्राम पंचायतों का कोरम पूरा न होने के कारण वहां के प्रधान शपथ नहीं ले सकेंगे। शपथ के अगले दिन यानी बीस जून को ग्राम पंचायतों की पहली बैठक निर्धारित की गई है।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty