आजमगढ़, जागरण संवाददाता। तैराकी में कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय रिकार्ड बना चुकी दिव्यांग 12 साल की जिया राय की प्रतिभा की चमक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक पहुंच गई है। गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री जिया को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित करेंगे। इससे पहले वह सोमवार को 11 बजे जिया के पिता मदन राय और उसकी मां रत्ना राय से वर्चुअल संवाद भी करेंगे।

पीएम मोदी ने मन की बात रेडियो कार्यक्रम में भी उनकी उपलब्धियों का जिक्र कर चुके हैैं। आटिज्म स्पेक्ट्रम डिसआर्डर से पीडि़त जिया राष्ट्रीय तैराकी में तीन वर्ष लगातार प्रथम स्थान बनाने वाली भारत की पहली दिव्यांग महिला तैराक हैं। उसने पहला विश्व रिकार्ड 14 फरवरी 2020 को महाराष्ट्र के एलिफेंटा से गेटवे ऑफ इंडिया तक 14 किलोमीटर की दूरी 3 घंटा 27 मिनट में तैरकर बनाया। दूसरा विश्व रिकार्ड अर्नाला का किला से वसई का किला के बीच अरब सागर में 22 किमी की दूरी 7 घंटा 4 मिनट में पूरी करके बनाया। तीसरा विश्व रिकार्ड मुंबई में वर्ली सी लिंक से गेटवे ऑफ इंडिया तक 36 किमी की दूरी 8 घंटा 40 मिनट में तैरकर बनाया। उसने 2020 में राष्ट्रीय पैरा तैराकी प्रतियोगिता में 200 मीटर फ्री स्टाइल में राष्ट्रीय रिकार्ड के साथ 100 मीटर बैकस्ट्रोक ,100 मीटर बटरफ्लाई में भी गोल्ड जीता था। राष्ट्रीय बाल खेल पुरस्कार मिलने की खबर आते ही रविवार को जिया के घर जीयनपुर के कटाई अलीमुद्दीन पुर में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। आसपास के लोगों ने आजमगढ़ की बेटी को खूब शुभकामनाएं दीं। जिया का परिवार मुंंबई में रहता है और उसके पिता भारतीय नौसेना में हैैं।

Edited By: Saurabh Chakravarty