मीरजापुर, जेएनएन। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को प्रदेशव्यापी धरना-प्रदर्शन के तहत जिला मुख्यालय पर एकत्रित होकर जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा। साथ ही कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

प्रदेश सचिव मनीष त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि भाजपाराज में बैंकों में घोटाले लगातार हो रहे हैं। कहा कि भाजपा से जुड़े कारोबारियों ने यश बैंक से लोन लेने के बाद ऋण वापस नहीं किया। इससे बैंक दिवालिया होने के कगार पर पहुंच गया है। जिलाध्यक्ष व्यासमुनि तिवारी ने यश बैंक में हुए घोटाले की जांच कराने की मांग की। कहा कि खाताधारकों का संपूर्ण जमा धन वापस कराया जाए। साथ ही बैंक अधिकारियों का पासपोर्ट जब्त किया जाए और इस प्रकरण से जुड़े अधिकारियों की तत्काल गिरफ्तारी की जाए।

भाजपा सरकार पर लगाया पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने का आरोप

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को यस बैंक में पैसा डूबने का आरोप लगाते हुए सोनभद्र में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। इस दौरान बैंक के अधिकारियों से पैसा वसूलने एवं खाताधारकों का पैसा वापस कराए जाने की मांग की। जिलाध्यक्ष नीरज पांडेय ने कहा यस बैंक से भाजपा नेताओं के अरबपति मित्रों को लोन देने से बैंक कर्ज में डूब गया है। लोन न चुकाने पाने से देश के आम आदमी का अपना ही पैसा फस गया है। कहा कि यस बैंक के 60 हजार करोड़ रुपये का घोटाला करने वाले पूंजीपति डिफाल्टर की खोज कर आम आदमी के डूबे पैसे को सरकार को लौटाना चाहिए। जिला महासचिव रमेश गौतम ने कहा भाजपा सरकार सिर्फ पूंजिपतियों को लाभ पहुंचाने का काम करती है। इसको जनता से कोई लेना देना नहीं है। उपाध्यक्ष शिशिर त्रिपाठी ने कहा कि भाजपा के बातों पर विश्वास करने से आम आदमी की कमर टूट रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021