वाराणसी, जेएनएन। बीएचयू अस्पताल में कोरोना संक्रमित पत्नी की मौत पर दारोगा ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। इस संबंध में लंका थाने पर तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। लंका थाना प्रभारी महेश पांडेय के मुताबिक जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

मीरजापुर के कछवां निवासी ओम प्रकाश पांडेय अपर पुलिस महानिदेशक जोन कार्यालय में तैनात हैं। कोरोना संक्रमित उनकी 55 वर्षीय पत्नी उर्मिला पांडेय को गत 30 अप्रैल की सुबह बीएचयू सर सुंदरलाल अस्पताल की नई बिल्डिंग में दूसरे तल के बेड नंबर 60 पर भर्ती किया गया था। उनकी बहू पूजा पांडेय जरिए मैसेज सूचना देकर नियमों का पालन करते हुए अस्पताल गई तो देखा कि उनकी सास का मास्क हटा हुआ था और वह बेड से नीचे गिर कर छटपटा रही थीं। इसकी शिकायत वहां मौजूद कर्मचरियों से की, लेकिन उनके द्वारा कोई सहयोग नहीं किया गया।

बहू ने अगल बगल के मरीजों को अपना मोबाइल नंबर देने के साथ उनके भी नंबर लिए। इसके बाद वहां की स्थिति से अपने ससुर को अवगत कराया। दारोगा ने अपने अधिकारी अपर पुलिस महानिदेशक बृज भूषण शर्मा को इसकी जानकारी दी। इसी दौरान बगल के बेड के एक मरीज ने मोबाइल से बताया कि आप की मरीज पुन: बेड से गिर गई हैं। इस पर दारोगा ने बीएचयू के प्रभारी डा. एसके माथुर को अवगत कराते हुए विधायक सौरभ श्रीवास्तव से शिकायत करते हुए उचित सहयोग का अनुरोध किया। इसके बावजूद उचित इलाज न होने व डाक्टरों तथा अस्पताल के कर्मचारियों की लापरवाही के कारण उनकी पत्नी की मृत्यु हो गई। मरीज को दिया हुआ मोबाइल भी गायब हो गया।

कोरोना से शिक्षक का निधन

महाबोधि इंटर कालेज के भौतिक विज्ञान के प्रवक्ता सुशील कुमार श्रीवास्तव का कोरोना से निधन हो गया। प्रधानाचार्य प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, डा. बेनी माधव, पूर्व एमएलसी डा. प्रमोद मिश्र, अनिल सोनकर, विनीता चौबे, सुधांशु शेखर त्रिपाठी सहित अन्य शिक्षकों ने शोक संवेदना व्यक्त की है।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty