आजमगढ़, जागरण संवाददाता। मुबारकपुर थाना क्षेत्र के चक अमरौला (बनकट) गांव के समीप शुक्रवार की रात घर के बाहर चारपाई पर सोना दंपती के जीवन पर भारी पड़ गया। मौत बनकर पहुंचे अनियंत्रित ट्रक ने दोनों को कुचल दिया। मौके पर ही दंपती की मौत हो गई। वहीं दुर्घटना के बाद भाग रहे ट्रक चालक और वाहन को पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया। ट्रक देवरिया जनपद से मीरजापुर जा रहा था। हृदय विदारक घटना की भनक लगी तो लोग कांप उठे।

चक अमरौला गांव के श्रीकृष्ण यादव गुमटी में पान की दुकान करते थे। वह और उनकी पत्नी माधुरी शुक्रवार की रात घर के बाहर सो रहे थे। उनका मकान आजमगढ़- गोरखपुर मार्ग पर स्थित है। आधी रात बाद करीब एक बजे देवरिया जनपद से मीरजापुर के लिए जा रहा ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे सो रहे दंपती को रौंद दिया। तेज आवाज के साथ हुए हादसे के बाद मौके पर चीख -पुकार मच गई। हादसे के बाद आनन फानन लोग जानकारी होते ही दुर्घटना स्‍थल की ओर दौड़ पड़े। 

हो-हल्ला मचा तो पास-पड़ोस के लोग मौके पर इकट्ठा हो गए। अफरा-तफरी के बीच चालक ट्रक लेकर मौके से भागने लगा। किसी ने पुलिस को फोन किया तो घेरा बंदी कर चालक को गिरफ्तार कर ट्रक को समेत कब्जे में ले लिया। हादसा किन परिस्थितियों में हुआ पुलिस यह जानने को जांच में जुट गई है। मृतक के एक पुत्र व तीन पुत्री हैं। मां-पिता को एक झटके में खो देने के कारण बच्चे बिलखना लोगों की आंखें नम कर दे रहा था। पुलिस का कहना है कि फिलहाल हादसे की वजह ट्रक का तेज रफ्तार होना की वजह सामने आ रहा है। लेकिन अधिकृत रूप से कुछ भी जांच पूरी होने के बाद ही कहना ठीक रहेगा। पुलिस शव को कब्जे में लेकर विधिक कार्यवाही में जुट गई थी।

Edited By: Abhishek Sharma