वाराणसी, जेएनएन। Coronavirus Update आजमगढ़ में शुक्रवार को 19 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई जबकि बलिया में 12 और भदोही में चार लोग स्‍वस्‍थ होकर अपने घर को लौट गए। नए केस मिलने से अब आजमगढ़ में कोराेना संक्रमित मरीजों की संख्‍या 88 हो गई है। दो की हो पहले ही मौत हो चुकी है। नौ मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं। इस प्रकारएक्टिव मरीजों की संख्या 77 हो गई है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एके मिश्रा ने पुष्टि करते हुए बताया कि सभी संक्रमित मरीजों को मेडिकल कॉलेज चक्रपानपुर में आइसोलेट कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। 

कोरोना को दिया मात, चेहरे पर खुशी लेकर लौटे घर

बलिया के बैरिया तहसील क्षेत्र के विभिन्न गांवों के बसंतपुर के चिकित्सालय में अवस्थित आसुलेशन वार्ड में प्रशासन द्वारा भर्ती कराए गए सभी एक दर्जन पीड़ित इलाज के बाद स्वस्थ्य होकर शुक्रवार को अपने-अपने घर पहुंच गए। सभी स्वस्थ्य और खुशहाल हैं। इन्हें 14 दिनों के इलाज के लिए अस्पताल में रखा गया था। उल्लेखनीय है कि जगदेवां ग्राम पंचायत के पांडेयपुर की एक किशोरी के अलावा दुर्जनपुर का एक, मिर्जापुर के दो, चांद दियर के तीन, खवासपुर के दो, व भैसहां के दो सहित कुल 12 लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त हो गए हैं। स्वस्थ्य होने पर चिकित्सकों ने उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर घर भेज दिया है। हालांकि उन्हें आगामी 14 दिनों तक स्वास्थ्य संबंधी सावधानी के साथ घरों में रहने व सोशल डिस्टेंस रखने की सलाह चिकित्सकों ने दी है।

बालक व दो महिला भी हुईं स्‍वस्‍थ 

भदोही के ज्ञानपुर के हॉट स्पाट जोन रघुरामपुर (सरावां) के एक ही परिवार के तीन समेत कुल चार कोरोना पॉजिटिव की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने पर अस्पताल से छुट्टी मिल गई । जीवन से निराश हो चुके कोरोना संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों में वरदान के रुप में दोबारा जीवन मिलने का भाव देखा गया तो परिवार के लोगों में बेहद खुशी देखी गई। जनपद में 13 मई को ऊंज थाना क्षेत्र के रघुरामपुर गांव में एक ही परिवार के 16 सदस्यों के लिए गए स्वैब सैंपङ्क्षलग में 15 मई को एक दस वर्षीय बालक तो 16 मई को परिवार के एक महिला समेत दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से प्रशासन में हलचल मच गई।

गांव को हॉटस्पॉट जोन घोषित कर एक किमी का एरिया सील कर दिया गया। औराई में थर्मल स्क्रीङ्क्षनग कराने आई चील्ह की एक महिला में लक्षण मिलने पर भेजे गए स्वैब जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। चारों लोगों को उसी दिन मीरजापुर के कोरोना एल-1 अस्पातल में आइसोलेट किया गया था। जिला संक्रामक एवं महामारी अधिकारी डा. अजीत पाठक ने बताया कि चारों लोगों की दोबारा स्वैब सैंपङ्क्षलग में रिपोर्ट निगेटिव आई है।

 बालक की मां अभी भी है आइसोलेट

कोरोना पॉजिटिव रघुरामपुर निवासी बालक समेत परिवार के दो अन्य सदस्य तो कोरोनामुक्त होकर घर वापस आ गए हैं। अभी भी उसकी मां अस्पताल में आइसोलेट है। उसका भी दोबारा स्वैब भेजा गया है। रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। जनपद में गुरुवार तक कोरोना पॉजिटिव के कुल मामले 37 तक पहुंच गया। जिसमें चार की दोबारा रिपोर्ट निगेटिव आने पर कोरोनामुक्त की संख्या सात हो गई। तीन प्रवासियों की मौत भी हो चुकी है। अब कोरोना संक्रमण का सक्रिय मामला 27 है। सभी मीरजापुर के एल-1 अस्पताल में आइसोलेट हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस