वाराणसी, जेएनएन। अब तक सुरक्षित रहे दूर-दराज के गांवों में भी चुनावी सरगर्मी ने कोरोना का रुख मोड़ दिया है। दूसरी लहर की शुरुआत में संक्रमण का केंद्र काशी विद्यापीठ ब्लाक था, जहां से रोजाना 200 से अधिक मरीज मिल रहे थे। अब भी वह संक्रमण का केंद्र बना हुआ है, वहां से दो मई को 282 तो वहीं तीन मई काे 250 मरीज मिले थे। मगर अब संक्रमण की लहर पिंडरा, आराजीलाइन, बड़ागांव व चिरईगांव को भी तेजी से प्रभावित कर रही है।

जागरुकता की कमी के चलते फिलहाल कम ही लोग जांच करा रहे हैं, जबकि छोटी मोटी डिस्पेंसरी या झोलाछाप के यहां भारी भीड़ उमड़ रही है। इनमें अधिकांश मरीज ऐसे होते हैं, जिनके लक्षण कोरोना मरीजों से मिलते-जुलते होते हैं। जिले में अब तक कुल 70795 कोरोना मरीज मिल चुके हैं, जिनमें से करीब 70 फीसद यानी करीब 49 हजार शहर से तो वहीं तकरीबन 30 फीसद यानी 21 हजार ग्रामीण क्षेत्रों से मिले थे। वर्तमान में 15494 सक्रिय कोरोना संक्रमित हैं।

शहरी क्षेत्र में बीएचयू, लंका, भेलूपुर, सामनेघाट, बजरडीहा, मडुआडीह, अर्दली बाजार आदि से अधिकांश मरीज मिल रहे हैं तो काशी विद्यापीठ ब्लाक के बाद आराजीलाइन, बड़ागांव, चिरईगांव के साथ ही अब चोलापुर, हरहुआ, सेवापुरी आदि क्षेत्रों में मरीजों की संख्या में वृद्धि होने लगी है।

अब संक्रमण की रफ्तार तेज होने का बढ़ा खतरा

पंचायत चुनाव में चोरी-छिपे चली बैठकों व अन्य गतिविधियों में कोरोना प्रोटोकाल के असर का अंदाजा शायद स्वास्थ्य विभाग को भी खूब है। एेसे में जांच बढ़ाने पर जोर है ताकि बिगड़ते हालात को हाथ से बाहर जाने से पहले काबू किया जा सके।

कोरोना संक्रमण का आंकड़ा

शहरी क्षेत्र दो मई तीन मई

आदमपुर 01 01

आनंदमयी 49 24

अशफाक नगर 16 10

बजरडीहा 65 30

बड़ी बाजार 00 04

बेनियाबाग 06 00

भेलूपुर 15 13

छावनी 33 17

चौकाघाट 20 05

चौक-सेवासदन 09 04

दुर्गाकुंड 23 13

जैतपुरा 33 06

कोनिया 08 00

लल्लापुरा 05 05

मदनपुरा 08 02

माधोपुर 41 28

मंडुआडीह 21 23

अर्दली बाजार 45 30

पांडेयपुर 29 63

राजघाट 10 01

सदर बाजार 21 15

शिवपुर 26 41

सिकरौल 27 37

पहड़िया 51 47

ग्रामीण क्षेत्र दो मई तीन मई

काशी विद्यापीठ 282 250

पिंडरा 105 44

आराजीलाइन 25 80

बड़ागांव 24 31

चिरईगांव 29 21

चोलापुर 31 13

हरहुआ 24 23

सेवापुरी 09 17

अन्य 203 94

(नोट : स्वास्थ्य विभाग की ओर से उपलब्ध दो व तीन मई का आंकड़ा।)