बलिया, जागरण संवाददाता। आजमगढ़  मंडल में 16 महीनों में 9500 किलो तक सीएनजी की बिक्री पहुंच गई है। वहीं लगातार कारोबार में इजाफा हो रहा है। मंडल में बलिया, मऊ व आजमगढ़ में दस तक पहुंची पंपों की संख्या की वजह से अब क्षेत्र में तेजी से डिमांड बढ़ रही है। जबकि आगामी 15 दिन में तीन नए पंप संचालित होंगे। दरअसल त्योहारी सीजन में सीएनजी गाड़ियों की बिक्री में इजाफा भी खूब हुआ है। 

कहां कितनी बिक्री

5500 किलो आजमगढ़

2500 किलो बलिया

1500 किलो मऊ

तेजी से बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों के बीच सीएनजी की बिक्री में काफी बढ़ोतरी देखी जा रही है। आजमगढ़ मंडल के तीन जिलों में इस समय रोजाना नौ हजार किलो तक गैस की खपत हो रही है। यह आंकड़ा दीवाली तक दस हजार किलो तक पहुंच जाएगा। वहीं सीएनजी पंपों की संख्या भी नौ से बढ़कर दस हो गई है।

तीन नए पंप दीवाली तक संचालित होने लगेंगे। इसमें बलिया में दो व मऊ में एक का काम अंतिम चरण में है। फिलहाल बलिया में तीन, मऊ में एक व आजमगढ़ में अब कुल छह पंप संचालित हैं। इसमें एक की शुरुआत सोमवार को हुई है। वहीं त्योहारी सीजन में गाड़ियों की बिक्री बढ़ने से सीएनजी की मांग बढ़ने की उम्मीद है।

मई 2020 में स्थापित हुआ था पहला पंप : टोरेंट कंपनी ने मंडल में मई 2020 में पहला पंप मऊ में स्थापित किया था। इसके बाद लगभग 16 महीनों में दस पंप तैयार कर लिए गए। आजमगढ़ मंडल में आठ साल (2020 से 28 तक) में 40 पंप खोलने का लक्ष्य केंद्र सरकार की ओर से दिया गया है।

बोले अधिकारी : आजमगढ़ में एक नया पंप खुलने के बाद मंडल में अब संख्या दस हो गई है। सीएनजी पंप खोलने की दिशा में तेजी से काम चल रहा है। तीनों जिलों में सप्लाई लगातार बढ़ी है। - जीवी राममनोहर, महाप्रबंधक, टोरेंट कंपनी, आजमगढ़ मंडल।

Edited By: Abhishek Sharma