वाराणसी (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि एक ऐसा समय था जब डाक विभाग देश का सबसे प्रासंगिक विभाग माना जाता था मगर औचित्य पर ही सवाल उठने लगे। 

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक देशभर के अधिकारियों से लेकर डाक कर्मचारियों को नवजीवन प्रदान करने वाला एक कदम है। इसके जरिए उत्तर प्रदेश में 3,00,000 से अधिक डाक सेवक जहां अपनी सामाजिक सुरक्षा को लेकर निश्चिंत हो जाएंगे वहीं 17000 से अधिक डाकघर पुन: सक्रिय होकर लोगों के बीच पहुंचे।

योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी के प्रधान डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि तकनीकी प्रचार प्रसार के माध्यम से एक तरफ जहां हम डिजिटल इंडिया के निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे वहीं तकनीकों का प्रयोग करके भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में भी कामयाब होंगे। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक एक ऐसी ही एक ऐसा कदम है जो इस देश को भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था देने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

उत्तर प्रदेश में बड़ी संख्या में लोगों को बिना बैंक गए, बैंक के सारे काम करने की आजादी मिल जाएगी। उत्तर प्रदेश के एक लाख से अधिक डाक सेवक अब अपनी सामाजिक सुरक्षा की चिंता को लेकर निश्चिंत हो जाएंगे। इस अवसर पर राज्य मंत्री अनिल राजभर नीलकंठ तिवारी विधायक सौरभ श्रीवास्तव डॉक्टर अवधेश सिंह, पूर्व विधायक श्यामदेव राय चौधरी प्रमुख रूप से उपस्थित थे मुख्यमंत्री के यहां पहुंचने पर बैंक के स्थानीय शाखा के वरिष्ठ प्रबंधक शैलेश सिंह ने सभी का स्वागत किया पोस्ट मास्टर जनरल प्रणव कुमार ने बैंक की योजनाओं के बारे में सभी को विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन प्रतिमा सिन्हा ने किया। 

Posted By: Dharmendra Pandey