वाराणसी, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान शुक्रवार को सर्किट हाउस में जनपद में निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति की समीक्षा की। वाराणसी में वर्तमान में 8238.77 करोड़ रुपए की 136 प्रमुख परियोजनाएं निर्माणाधीन है। जिसमें मई, 2021 तक पूर्ण एवं इस माह जून माह में पूर्ण होने वाली 726.54 करोड़ रुपए की 39 परियोजनाएं हैं। अगले माह जुलाई, 2021 में 1424.42 करोड़ रुपए की 14 परियोजनाएं पूर्ण हो जाएंगी। अगस्त से दिसंबर 2021 तक 3879.49 करोड़ रुपए की 62 परियोजनाएं पूर्ण हो जाएंगी। अगले वर्ष जनवरी, 2022 के बाद 1894.15 करोड़ रुपए से निर्माणाधीन 7 परियोजनाएं पूर्ण हो जाएंगी। 314.17 करोड़ रुपए की 14 परियोजनाएं टेंडर व अन्य प्रक्रिया में हैं।

मई, 2021 तक पूर्ण व जून, 2021 में पूर्ण होने वाली परियोजनाओं में रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर, राजकीय चिकित्सालय पांडेपुर में 50 शैयायुक्त महिला चिकित्सालय का कार्य, बीएचयू में 100 शैयायुक्त मेटरनिटी विंग निर्माण, रीजनल इंस्टिट्यूट ऑफ ऑफथेल्मोलॉजी की स्थापना, बीएचयू में आवासीय भवन निर्माण, पुरानी सीवर का सीआईपीपी लाइनिंग जीर्णोद्धार कार्य, गोदौलिया दुपहिया वाहन पार्किंग, भिखारीपुर तिराहे से एनएच-2 तक सड़क चौड़ीकरण, वाराणसी- गाजीपुर मार्ग पर आरओबी निर्माण, अस्सी घाट से राजघाट तक गंगा नदी के ड्रेजिंग एवं चैनेलाइजेशन कार्य, स्मार्ट स्कूल मछोदरी का निर्माण, शहर के टैगोर टाउन पार्क, गिरी नगर पार्कों का विकास एवं सुंदरीकरण, घाटों पर कल्चरल अपलिफ्टमेंट थ्रू ऑडियो-वीडियो सॉल्यूशन कार्य, ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर निर्माण कार्य आदि है।

जुलाई, 2021 में पूर्ण होने वाली परियोजनाओं में वाराणसी-गाजीपुर फोरलेन चौड़ीकरण कार्य, बीएचयू में 200 कक्ष महिला छात्रावास, वरुणा नदी के चैनेलाइजेशन एवं तटीय विकास, सर्किट हाउस कैम्प्स में भूमिगत पार्किंग, गोदौलिया से दशाश्वमेध घाट तक पर्यटन विकास, एसटीपी रमन्ना का निर्माण, एसटीपी रामनगर का निर्माण आदि है। अगस्त से दिसंबर, 2021 तक पूर्ण होने वाली परियोजनाओं में बीएचयू में आवासीय भवन निर्माण, बीएचयू डॉक्टर/नर्सेज हॉस्टल एवं धर्मशाला निर्माण, बीएचयू में आईयूसीटीई भवन निर्माण, राजपूताना छात्रावास में स्टूडेंट एक्टिविटी सेंटर का निर्माण, जौनपुर- वाराणसी मार्ग के चौड़ीकरण कार्य, आजमगढ़- वाराणसी के फोरलेन चौड़ीकरण कार्य, कैंट से पड़ाव का चौड़ीकरण कार्य, बाबतपुर-कपसेठी- भदोही मार्ग पर आरओवी निर्माण, कालिकाधाम पर वरुणा नदी पर पुल निर्माण, कोनिया-सलारपुर मार्ग पर पुल निर्माण, लहरतारा-फुलवरिया मार्ग पर दो आरओवी व फोरलेन सड़क निर्माण परियोजना, विद्युत उपकेंद्र अलईपुर का निर्माण, टाउन हॉल में पार्क व भूमिगत पार्किंग निर्माण, शाही नाला का जीर्णोद्धार, अतिरिक्त सीवर लाइन निर्माण, पिड्रा में आईटीआई का निर्माण, पांडेपुर, चकरा, सोनभद्र, नदेसर व चितईपुर तालाबों का विकास एवं सौंदर्यीकरण, काशी के कालभैरव, कामेश्वर महादेव, राजमंदिर वार्ड, जंगमबाड़ी, दशाश्वमेध व गड़वासी टोला के रिडेवेलपमेंट कार्य, शहर के 720 स्थानों पर एडवांस सर्विलांस कैमरा की स्थापना कार्य, दशाश्वमेध घाट पुनर्विकास परियोजना, खिड़कियां घाट का पुनर्विकास कार्य, विद्युत बस चार्जिंग स्टेशन निर्माण आदि कार्य हैं। दिसंबर, 2021 के बाद पूर्ण होने वाली परियोजनाओं में वाराणसी रिंग रोड फेज- 2 की परियोजना, कज्जाकपुरा आरओबी का निर्माण, वाराणसी शहर में गैस वितरण परियोजना आदि है। वाराणसी में कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं निविदा एवं अन्य प्रक्रिया में हैं। जिसमें रीडेवेलपमेंट ऑफ डॉ संपूर्णानंद स्मार्ट स्पोर्ट्स स्टेडियम, मणिकर्णिका घाट का पर्यटन विकास, गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के मुकीमगंज व मछोदरी क्षेत्र के कार्य, खेलो इंडिया खेलो के तहत कार्य, राजकीय महिला डिग्री कॉलेज बीएलडब्लू में निर्माण कार्य व कुछ स्काडा के तहत कार्य आदि हैं।

इस दौरान उत्तर प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी, स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल, विधायक सौरभ श्रीवास्तव के अलावा आईजी एस के भगत, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य विभागीय एवं कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी एवं अभियंता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Edited By: Saurabh Chakravarty