वाराणसी, जेएनएन। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार की दोपहर बलिया जिले के दौरे के बाद पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का रुख किया। वाराणसी में मुख्‍यमंंत्री का हेलिकाप्‍टर बाबतपुर एयरपोर्ट पर शाम करीब चार बजे उतरा। यहां पर प्रशासन और पार्टी पदाधिकारियों ने सीएम का स्‍वागत किया। इसके बाद हरहुआ चौराहा क्रास कर हाथी बाजार के लिये पंचक्रोशी रोड से उनका काफ‍िला रवाना हुआ। सीएम का काफ‍िला सीएचसी हाथी बाजार पहुंचा जहां पर सीएम ने करीब आधे घंटे तक स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी योजनाओं को लेकर जानकारी ली।

अपने गोद लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार का निरीक्षण करने शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे। नौ मिनट के निरीक्षण में जहां अधीक्षक डा. हंसराज को 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेंट किया, वहीं ऑक्सीजन प्लांट के लिए बने प्लेटफॉर्म और 30 बेड के लिए प्रस्तावित 53.46 लाख रुपये से बनने वाले भवन का नक्शा देखा। वहीं कार्यदायी संस्था को डेढ़ माह में भवन तैयार करने का निर्देश दिया, ताकि तीसरी लहर से मुकाबले को तैयारी पर्याप्त रहे। इस दौरान चल रहे टीकाकरण सत्र का भी सीएम ने जायजा लिया। वैक्सीनेटर व लाभार्थियों से फीडबैक भी लिया। वहीं लेबर रूम की व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ ही वहां भर्ती मरीजों का कुशलक्षेम भी लिया। करीब नौ मिनट के निरीक्षण के बाद सीएम सर्किट हाउस रवाना हुए।

वाराणसी पहुंचने के बाद मुख्‍यमंत्री पहले सेवापुरी ब्लॉक के हाथी बाजार स्थित राजकीय सामुदायिक केंद्र का निरीक्षण करने पहुंचे। मुख्यमंत्री के साथ इस दौरान प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे। परिसर में सीएम ने स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं को लेकर अधिकारियों से विचार विमर्श किया और आधुनिक चिकित्‍सासुविधाओं को परिसर में बढ़ाने पर जोर दिया। जिले में अन्‍य विकास कार्यों का जायजा लेने के लिए सीएम का काफ‍िला पांच बजे तक रवाना हो गया। मुख्‍यमंत्री इस दौरान जिले में विकास कार्यों और कोरोना महामारी से निपटने की तैयारियों के अलावा पूरी होने जा रही योजनाओं को और गति देने पर जोर देंगे।   

सीएम योगी ने रिंग रोड फेज दो का किया निरीक्षण, अक्टूबर में काशी के लोगों को मिलेगी सौगात

वाराणसी पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोइराजपुर गांव में रिंग रोड फेज दो का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ जिले के आला अफसर मौजूद रहे। हालांकि निरीक्षण के दौरान बरसात होने के चलते सीएम प्रोजेक्टर के माध्यम से रिंग रोड फेज दो के बारे में जानकारी लिये और वरूणा नदी पर बन रहे सेतु को ही देखकर लौट गये। अधिकारियों ने सीएम को बताया कि यह रिंग रोड 16.4 किमी लंबा है जो 450 करोड़ की लागत से बन रहा है। कार्यदायी संस्था द्वारा अक्टूबर तक इसे तैयार करने की जानकारी भी दी गयी। करीब 10 मिनट तक निरीक्षण करने के बाद सीएम सर्किट हाउस प्रस्थान कर गये।

Edited By: Abhishek Sharma