वाराणसी, जेएनएन। स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा को लेकर जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, होटल, ढाबा, व बाजारों में जगह-जगह संदिग्ध लोगों की पुलिस ने चेकिंग की। पुलिस के चेकिंग अभियान से पूरे जिले में वाहन चालकों के बीच अफरा तफरी की स्थिति बनी हुई थी। स्वतंत्रता दिवस को लेकर जिले की संवेदनशीलता को देखते हुए हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। सभी थानाध्यक्षों व प्रभारी निरीक्षकों के साथ ही चौकी प्रभारियों को भी अपने अपने क्षेत्र में भ्रमण कर संदिग्धों पर नजर रखने का निर्देश एसपी ने दिया है। थाने की पुलिस ने रोडवेज, रेलवे स्टेशन के साथ ही होटल व शहर के भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर पहुंच कर लोगों की चेकिंग की। इस दौरान यात्रियों के सामानों की भी पुलिस ने तलाशी ली।

कैंट स्थित रोडवेज बस स्टैंड पर सिगरा पुलिस ने क्षेत्राधिकारी चेतगंज के नेतृत्व में लावारिस वस्तुओं को चेक किया। साथ मौजूद बम एवं डॉग स्क्वायड ने यात्रियों के बैग को खंगाला। आजमगढ़ जाने वाली बस से मिले सामान की पड़ताल हुई। इसके पश्चात आरपीएफ व जीआरपी ने संयुक्त रूप से कैंट स्टेशन परिसर, प्लेटफार्म, यात्री हाल और पार्सल कार्यालय में रखे पैकेट को भी गहनता से चेक किया। रेलवे परिसर में अनावश्यक भटकने वालों बाहर खदेड़ दिया गया। अनाउंसमेंट सिस्टम से यात्री और रेलकर्मियों को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया। प्लेटफार्म नंबर एक पर खड़ी पटना- सिकंदराबाद एक्सप्रेस स्पेशल के अंदर भी चेक किया गया।

स्वतंत्रता दिवस को लेकर पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। नगर से लेकर वाराणसी कैंट स्‍टैशन व रेलवे स्‍टेशनों के साथ बस स्‍टेशन तक पुलिस की निगाह है। कोने-कोने की जांच पड़ताल तेज कर दी गई है।स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या शुक्रवार को सुरक्षा के मद्देनजर पर रेलवे जंक्शन पर आरपीएफ व जीआरपी ने संयुक्त रूप से चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान पूरे स्टेशन परिसर व दर्जनों ट्रेनों की सघनता से जांच पड़ताल की गई। पुलिस टीम के साथ होटल, लाज व संवेदनशील इलाकों की जांच पड़ताल की। संदिग्ध व्यक्तियों की सूचना तत्काल पुलिस को दिए जाने की लोगों से अपील की गई। पुलिस कर्मियों ने मेटल डिटेक्टर से कई यात्रियों के सामनोंकी भी जांच पड़ताल किया। डाग स्क्वॉयड की टीम ने जंक्शन के चप्पे-चप्पे की चेकिंग की। सर्कुलेटिंग एरिया में खड़े वाहनों की गहनता से जांच की गई। जवानों ने संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ भी की। हालांकि पुलिस टीम को किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक वस्तु या व्यक्ति नहीं मिले।