आजमगढ़, जेएनएन। प्रख्यात कवि डा. कुमार विश्वास का कार्यक्रम लगवाने के नाम पर जालसाजी करने के मामले में शहर कोतवाली पुलिस ने गुरुवार को प्रयागराज के एक इवेंट आर्गनाइजर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। 

धोखाधड़ी के शिकार हुए शहर कोतवाली क्षेत्र के लक्षिरामपुर निवासी प्रवीण कुमार शुक्ल एक संस्था के प्रबंध निदेशक है। उनकी संस्था विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराती है। उन्होंने विद्यार्थियों के मोटीवेशन के लिए प्रयागराज के इवेंट आर्गनाइजर के फाउंडर एंड लीड प्लानर अंजली द्विवेदी से संपर्क किया तो उन्होंने आजमगढ़ में 28 नवंबर को आयोजित कवि सम्मेलन कार्यक्रम को संपन्न कराने व इस कार्यक्रम में प्रख्यात कवि डा. कुमार विश्वास को मुख्य कवि के रूप में आमंत्रित करने का आश्वासन दिया।

इसके लिए आरोपित अंजली ने उनसे आठ लाख रुपये व साथ में 18 फीसद जीएसटी जमा करने के लिए कहा। पीडि़त का आरोप है कि आर्गनाइजर द्वारा दिए गए एकाउंट नंबर में चार किस्तों में 83 हजार रुपये जमा कर दिया। आर्गनाइजर द्वारा अपने लेटर पैड पर 28 नवंबर को डा. कुमार विश्वास की उपलब्धता के लिए कंफर्मेशन लेटर भी भेजा। लेटर पर डा. कुमार विश्वास के हस्ताक्षर थे। 23 नवंबर को बताया किया कि सभी पैसा तत्काल जमा करना होगा। उसी दिन डा. कुमार विश्वास के कार्यालय के नंबर पर संपर्क किया गया तो पता चला कि आजमगढ़ में कोई कार्यक्रम नहीं है।

आर्गनाइजर द्वारा 83 हजार रुपये का धोखाधड़ी किया गया है। ऐसे में आर्गनाइजर के खिलाफ कार्रवाई की जाए। पीडि़त ने इस संबंध में एसपी से मिलकर गुहार लगाई थी। एसपी सिटी पंकज कुमार पांडेय ने बताया कि शहर कोतवाली पुलिस ने प्रयागराज के इवेंट आर्गनाइजर के फाउंडर एंड लीड प्लानर अंजली द्विवेदी के खिलाफ जालसाजी की धारा के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस