जौनपुर, जेएनएन। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने तीन तलाक देने के आरोपित शौहर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। संसद में प्रतिबंध का कानून पारित होने के बाद जिले में तीन तलाक का यह पहला मामला है। आरोपित और उसके परिजन घर में ताला जड़कर फरार हो गए हैं। ससुराल से पिटाई कर निकाली गई पीडि़ता ने मायके में शरण ले रखी है।
कोतवाली क्षेत्र के ब्रह्मदेवा गांव निवासी अफसाना उर्फ अनीता ने पुलिस अधीक्षक के यहां प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई थी। बकौल अफसाना उसका शौहर अली उर्फ नन्हें अक्सर उसे मारा-पीटा करता था। गत एक अगस्त को उसके शौहर ने फिर उसकी पिटाई की और तीन बार लगातार तलाक बोलकर घर से निकाल दिया। पीड़तिा का आरोप है कि उसका शौहर किसी अन्य महिला से दूसरी शादी करना चाहता है। पुलिस अधीक्षक ने मामले को गंभीरता से लेते हुए कोतवाली पुलिस को मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसका अनुपालन करते हुए शुक्रवार को कोतवाली पुलिस आरोपित अली उर्फ नन्हें के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई में जुटी है। आरोपित पति व उसके परिजन घर में ताला लगाकर कहीं भाग गए हैं। पीडि़ता लाइन बाजार थाना क्षेत्र के ग्राम लखनपुर (चौकियां) मायके में शरण लिए हुए है।

Posted By: Saurabh Chakravarty