वाराणसी, जेएनएन। एनएच 2 पर मेहंदीगंज गांव स्थित कोल्ड स्टोरेज के सामने गुरुवार सुबह तेज रफ्तार इनोवा कंटेनर के पिछले हिस्से में जा घुसी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के परखचे उड़ गए। हादसे में कार चालक विशाल धोमने (35) व सुजाता पीटर (42) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, पांच अन्य लोग घायल हो गए। घायलों को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती किया गया है। आशंका है कि कार चालक को नींद आने के कारण यह हादसा हुआ।

दर्शन करने आ रहे थे काशी

महाराष्ट्र के नागपुर जिले के पेंशन नगर-पुलिस लाइन टॉकलीन (अनन्त नगर) निवासी पेरिस पीटर अपनी पत्नी सुजाता पीटर समेत परिवार संग इनोवा में सवार होकर बाबा विश्वनाथ का दर्शन करने वाराणसी आ रहे थे। कार को नागपुर के धन्वंतरी नगर (उतरेड रोड) निवासी विशाल धोमने चला रहा था। मिर्जामुराद थानांतर्गत मेहंदीगंज गांव स्थित कोल्ड स्टोरेज के सामने हाइवे पर खड़े कंटेनर के पिछले हिस्से में तेज रफ्तार इनोवा जा घुसी। घायलों की चीख-पुकार सुन मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने किसी तरह उन्हें बाहर निकाला और निजी वाहनों से बीएचयू ट्रामा सेंटर भेजा। चिकित्सकों ने चालक विशाल धोमने व सुजाता पीटर को मृत घोषित कर दिया। हादसे में पेरिस पीटर (45),मेरिटा (4), एना पीटर (13), व लवगोटी बाड़ा (45) घायल हैं। दुर्घटना के चलते हाईवे की उत्तरी लेन पर कुछ देर के लिए यातायात भी बाधित हो गया। पुलिस ने क्रेन की मदद से दोनो वाहनों को हटवाया तब जाकर यातायात व्यवस्था सामान्य हो पाया। दुर्घटना के बाद कंटेनर के चालक-खलासी वाहन छोड़ फरार हो गए। कंटेनर को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

हाईवे पर खड़े वाहनों पर दें ध्यान तो बच जाएगी जान

यातायात माह हो या कभी भी हाईवे पर बीचोंबीच खराब होकर खड़े वाहनों पर पुलिस व एनएचएआइ की पैट्रोलिंग द्वारा ध्यान नहीं दिया जाता। इस तरह के खड़े वाहनों पर अगर समय रहते ध्यान देकर उन्हें क्रेन की मदद से हटवा कर कहीं किनारे कर दिया जाए तो कई अनमोल जिंदगियां बच जाए। राजातालाब से लेकर कछवांरोड तक इसी तरह के कई हादसे हुए, लेकिन पुलिस नहीं चेती। हाईवे चौड़ीकरण के बाद अब आमने-सामने टक्कर की दुर्घटनाएं कम होती है। जो भी दुर्घटनाएं घट रही अक्सर खड़े वाहनों में पीछे से टकराने से हो रही है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस