आजमगढ़, जेएनएन। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर मैन्दीपुर के पास सुबह साढ़े नौ बजे एक तेज गति की कार पलट गई। हादसा होने के बाद भी उसमें सवार दो लोग सुरक्षित बच गए। कार सवार दोनों परिजन का निधन होने पर गाजीपुर के सिगेरा गांव स्थित ससुराल जा रहे थे।

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर रफ्तार भर रही कार टायर फटने के कारण पलट गई। जबरदस्त हादसे के बावजूद दंपती को खरोंच तक नहीं आई। हादसे की सूचना पर पवई पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई थी। कार की हाल देखने के बाद लोग कांप उठ रहे थे। लेकिन सच्चाई जानने के बाद लोगों की जुबां से यही बोल फूटते रहे कि जाको राखे साइयां मार सके न कोई ...।

मऊ जिले के प्रमोद कुमार सिंह अपनी पत्नी सरस्वती के साथ सुबह छह बजे लखनऊ से गाजीपुर जाने के लिए निकले तो पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की राह पकड़ ली। पवई इलाके में मैनुदीनपुर ओवर ब्रिज के पास से गुजर रहे थे कि उनकी कार का टायर अचानक फट गया। उसके बाद कार चला रहे प्रमोद का स्टेयरिंग से नियंत्रण छूटा तो कार पलट गई। चीख-पुकार मची तो इलाके के लोग पहुंचे तो दंपती को बाहर निकाला जा सका। पति-पत्नी को सकुशल देख ग्रामीण ईश्वर का शुक्रिया करना नहीं भूले।

प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि उनकी सास का निधन हाे गया है। वह कार से ही अपनी के साथ गाजीपुर जिले के सिगेरा गांव स्थित अपने ससुराल जा रहे थे। इतने बड़े हादसे के बाद खुद को सुरक्षित पाकर दंपती की आंखों में आंसू आ गए। प्रमोद सिंह उनकी पत्नी सरस्वती इलाकाई लोगों के प्रयास भी सराहना की। उन्होंने कहाकि बगैर परिचय के लोग किस तरह मुसीबत में मदद को दौड़ पड़ते है, यह मैं आज करीब से महसूस कर पाई। एसओ वृजेश सिंह ने बताया कि दंपती के स्वजन को सूचना दी गई है। पति-पत्नी को पहले गाजीपुर भेजवाना जरूरी है।

Edited By: Abhishek Sharma