वाराणसी, जेएनएन। सामाजिक संस्था सुबह-ए-बनारस क्लब के बैनर तले लोहटिया स्थित श्री हरिश्चंद्र इंटरमीडिएट कॉलेज के प्रांगण में संस्था द्वारा प्रधानमंत्री मोदी के आवाहन पर 2 अक्टूबर से एक बार उपयोग में आने वाले पॉलिथीन पर पूरी तरह से बैन लगने के समर्थन में गणमान्‍य लोग जुटे। धीरे-धीरे अब लोगों ने भी इसका बहिष्कार करना शुरू कर दिया है मगर चोरी-छिपे अभी भी यह बाजार में उपलब्ध है। इस पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए लोगों में जागरूकता लाने के साथ शासन प्रशासन से यह मांग की गई कि जहां भी इसका निर्माण हो रहा है। वहां पर भी तत्‍काल रोक लगाना आवश्यक है। 

संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, डॉ. रितु गर्ग एवं कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. उमेश कुमार सिंह के नेतृत्व में छात्रों के बीच कैरी बैग बांट कर छात्रों को छात्रों के माध्यम से लोगों को पूरी तरह से पॉलीथिन के बहिष्कार करने का एवं लोगों को इसके दुष्परिणाम के बारे में जागरूक करने के लिए शपथ कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष मुकेश जायसवाल, डा.रितु गर्ग एवं प्रधानाचार्य डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने कहा कि पर्यावरण से व सेहत दोनों के लिए पॉलिथीन हानिकारक है। इसके इस्तेमाल से कई खतरे हैं यह जितना हल्का है उतना ही गहरा नुकसान पहुंचाता है।

पॉलिथीन में रखे गए सामान से नुकसान हो रहा है और इसका असर तत्काल नहीं दिखता बल्कि लंबी बीमारी के तौर पर यह उभरता है। पॉलिथीन का केमिकल खाद्य पदार्थों में मिलाना बहुत हानिकारक होता है इसे रोकने और इसके बचने के लिए हमें खुद पहल करना होगा। पहले के मुकाबले वर्तमान में जिस प्रकार से कैंसर के रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है उसका यह मुख्य कारण पॉलिथीन है भी है। पारिवारिक सेहत के दृष्टिकोण से इसका परित्याग करना अति आवश्यक हो गया है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्यारे मोहन सिंह, राजन सोनी, अनिल केसरी, नंदलाल, टोपी वाले जायसवाल सहित सैकड़ों छात्र शामिल थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021