चंदौली, जेएनएन। टीकाकरण के लिए अब घर-घर बुलावा पर्ची पहुंचेगी। पर्ची पर टीकाकरण की तिथि व स्थान का उल्लेख रहेगा। इसे बांटने वाली टीम में शामिल प्रधान, लेखपाल व सचिव लोगों के घर यह पर्ची भेजेंगे। जुलाई से विशेष अभियान चलाने को यह तैयारी की गई है। वैक्सीनेशन के प्रति अभी भी लोगों में तमाम तरह की भ्रांतियां हैं। वहीं झिझक की वजह से भी लोग टीका नहीं लगवा रहे। जागरूकता कार्यक्रम भी बेअसर साबित हो रहे हैं।

टीकाकरण कार्यक्रम चालीस फीसद से अधिक नहीं पहुंच रहा है। यही वजह कि जिले में मात्र 17 केंद्र खुले हैं, इन पर भी किसी-किसी दिन एक भी वैक्सीनेशन नहीं हो रहा। जिले के लिए यह चिंता का विषय है। हालांकि इसको लेकर प्रशासन ने तैयारी की है। अगले महीने से घर के करीब ही टीकाकरण केंद्र बनाकर लोगों को वैक्सीन लगेगी। चुनावों की तर्ज पर पर्ची पर उनका नाम, पिता का नाम, मुहल्ला उम्र और रजिस्ट्रेशन संख्या लिखी होगी। पर्ची का नाम बुलावा पर्ची होगा। इसके लिए ग्राम प्रधान मुख्य भूमिका में होंगे। इसके अलावा लेखपाल, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक, पंचायत सचिव और युवक/महिला मंगल दल से जुड़े लोग सहयोग करेंगे। विकास खंड व शहरी क्षेत्र में अलग-अलग इकाइयां काम करेंगी। विभाग ने इन टीमों का नाम क्लस्टर वैक्सीनेशन ग्रुप दिया है। अभियान को लेकर निष्प्रयोज्य पड़े पंचायत भवन, आंगनबाड़ी केंद्र या अन्य सार्वजनिक स्थानों को साफ-सुथरा कर वहां टीकाकरण टीम की ड्यूटी लगाई जा रही है।

रिजर्व रहेगी क्यूआरटी टीम

गांव-गांव चलने वाले अभियान में कोई व्यक्ति बीमार होता है या कोई परेशानी होने पर क्विक रिस्पांस टीम मदद को आगे आएगी। हर ब्लाक में दो क्यूआरटी टीम बनाई गई हैं। टीका के बाद किसी की तबीयत खराब होती है तो संबंधित क्षेत्र की 108 नंबर एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध रहेगी।

बोले अधिकारी 

टीकाकरण बढ़ाने को हर ब्लाक में तैयारी की गई है। इसके लिए बाकायदा टीम भी गठित हुई हैं। एक जुलाई से टीकाकरण शुरू हो जाएगा। इसकी हर रोज मानिटरिंग होगी। -संजीव सिंह, जिलाधिकारी।

Edited By: Abhishek Sharma