वाराणसी, जेएनएन। जिले की सीमा में पैदल प्रवेश करने वालों के लिए वहीं पर रहने की व्यवस्था की गई है। इसके लिए पिंडरा स्थित नेशनल इंटर कालेज पर भेजा जा रहा है। यहां पर बिहार और झारखंड के लोगों को रखा गया है। ये लोग बार्डर पर पैदल या अन्य वाहनों के द्वारा आये थे। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने वहां पहुंच कर व्यवस्था को देखा। प्रवासियों को आश्वस्त किया कि यहां आप लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी। बसों की व्यवस्था की जा रही है जल्दी ही आप लोगों को गनतव्य स्थलों तक भेजा जाएगा।

जिलाधिकारी शुक्रवार को एसएसपी प्रभाकर चौधरी के साथ वहां पहुंचे थे। इसके पूर्व सराय काजी, बाबतपुर रोड स्थित गोकुलधाम लॉन में बनाये गये कोरोना परीक्षण केंद्र का निरीक्षण किया। तेज धूप और गर्मी को देखते हुए एसडीएम पिंडरा मडिकंडन को निर्देश दिया कि अंदर खाली मैदान में टेंट लगवाएं और पीने के पानी की पर्याप्त व्यवस्था रखें। इसके बाद वे वाराणसी-जौनपुर बार्डर पर फूलपुर पोस्ट पर पहुंचे तथा ड्यूटी पर तैनात पुलिस व प्रशासनिक कर्मियों से सभी के विषय में जानकारी ली।

बाहर से वाराणसी आने वालों की स्कैनिंग हर स्वास्थ्य केंद्र पर होगी

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने इस संबंध में बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में ब्लाक स्तरीय सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चोलापुर, आराजीलाइन, सेवापुरी, काशीविद्यापीठ, हरहुआ, बड़ागांव, पिंडरा एवं चिरईगॉव में प्रवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं थर्मल स्कैनिंग का कार्य किया जाएगा। ऐसे सभी व्यक्तियों से अपील है कि वे इन अस्पतालों में से किसी में जाकर अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराएं। यदि उन्हेंं वहां के चिकित्सकों द्वारा अग्रिम परामर्श अथवा नमूना जांच के लिए ईएसआइसी हास्पिटल पांडेयपुर में रेफर किया जाता है तभी वो वहां जाएं। किसी प्रवासी का पूर्व में रेलवे स्टेशन, केआइटी या गोकुलधाम हरहुआ में स्वास्थ्य परीक्षण हो चुका है तो उन्हे दुबारा न भेजा जाय।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस