आजमगढ़, जागरण संवाददाता। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव आए तो सपा में उनका पूरा सम्मान होगा । वह काेयलसा ब्लाक स्थित तोनारी गांव में सपा जिला अध्यक्ष हवलदार यादव के भतीजी की शादी में शामिल होने आए थे। वह दिन में 11.15 बजे पहुंचे तो करीब आधा घंटा मौजूद रहे। उसी दौरान मीडिया को बताया कि संविधान और लोकतंत्र की रक्षा के लिए क्षेत्रीय दलों को साथ चुनाव में भाजपा को हराऊंगा। उन्होंने रालोद, अपना दल का नाम लेते हुए कहे कि हमारा दल एक गुलदस्ता है।

आजमगढ़ में सभी 10 विधानसभा सीटों पर विजय हासिल करेंगे। बसपा छोड़ चुके विधायक शाह आलम गुड्डू जमाली संबंधी सवाल पर बोले कि अच्छी छवि के लोगों का वह स्वागत करेंग। केंद्र सरकार द्वारा किसान बिल वापस लेने के सवाल पर कहा कि यह कृषि बिल लाना ही भाजपा का गलत फैसला था। बीजेपी के साथ न जनता है और ना ही किसान। उन्होंने कहाकि सरकार बिजली और महंगाई पर योगी सरकार को घेरते हुए कहाकि दोनों ही मुद्​दे पर सरकार जवाब देने से बच रही है। बिजली का बिल इतना बढ़ा दिया गया कि बिल मिलते ही लोगों को करंट लगता है। योगी जी सिर्फ टैबलेट देने की बात कह रहे, जिसका आप सब आशय समझ ही रहे होंगे। बसपा को घेरते हुए कहाकि सपा दलितों और पिछड़ों के साथ है। आज संविधान दिवस के दिन हमारी पार्टी डा. आंबेडकर को याद कर रही है।

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष हवलदार यादव के घर वैवाहिक समारोह में शामिल होने तोनारी गांव पहुंचे अखिलेश यादव ने कहा कि आज का सबसे बड़ा मुद्दा महंगाई का है। डीजल, पेट्रोल, खाद्य तेल, खाद, बीज आदि सब कुछ मंहगा हो गया है, लेकिन इस मुद्दे पर भाजपा के पास कोई जवाब नहीं है। वह सिर्फ जाति और धर्म के नाम पर लोगों को बांटने का काम करती है। नौजवान, किसान, व्यापारी हर कोई बेहाल है। कृषि कानूनों की वापसी यह साबित करती है कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण लोगों का काफी नुकसान हुआ है । आज सरसों का तेल इतना महंगा हो गया है कि गरीब आदमी 100-200 एमएल शुद्ध तेल भी नहीं खरीद पा रहा है। उसे जो तेल खिलाया जा रहा है उसमें ना जाने कितनी मिलावट की जा रही है जिसे सोयाबीन तेल का नाम दिया जा रहा है। नेता जी ने आजमगढ़ में हवाई पट्टी दिया, उसका विस्तार किया लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री ने उसे आज तक उसे नहीं बनने दिया ।

Edited By: Abhishek Sharma