वाराणसी, जेएनएन। अग्रसेन कन्या पीजी कालेज ने अगले सत्र से पांच वर्षीय विधि कोर्स भी शुरू करने का निर्णय लिया है। बार काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता के लिए प्रारूप भी तैयार कर लिया गया है। बीए-एलएलबी कोर्स संचालित करने के लिए जल्द ही आवेदन किया जाएगा। इसके अलावा परमानंदपुर परिसर में बीएड, बीटीसी, बीसीए, बीबीए जैसे कई व्यवसायिक कोर्स संचालित करने का प्रस्ताव है।

बुलानाला स्थित महाविद्यालय परिसर में मंगलवार को आयोजित पत्रकारवार्ता में ये जानकारी संस्था के प्रबंधक अनिल कुमार जैन ने दी। उन्होंने बताया कि मुख्य परिसर में जगह कम होने के कारण परमानंदपुर परिसर को और विकसित करने का निर्णय लिया गया है।

ऑनलाइन के लिए कंप्यूटर लैब

ऑनलाइन परीक्षाओं के दौर को देखते हुए परमानंदपुर परिसर कंप्यूटर लैब बनवाए जा रहे हैं। वहीं नवीन कार्यालय भवन, रीडिंग रूम, पुस्तकालय का विस्तार, अत्याधुनिक अतिथि गृह, महाराज अग्रसेन द्वार, रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, कंपोस्ट खाद के लिए आटोमैटिक मशीन, वीरांगना सभागार सहित अन्य कार्य कराए गए हैं। इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बास्केटबॉल कोर्ट बनवाया जा रहा है। वहीं मुख्य परिसर के सुंदरीकरण का कार्य जारी है।

दूर हुआ रोड़ा, छात्राओं को मिली उपाधि

उन्होंने कहा कि वर्ष 2013 से करीब चार हजार छात्राओं की उपधियां फंसी हुई थी। व्यक्तिगत स्तर प्रयास से विद्यापीठ ने छात्राओं की उपाधियां जारी कर दी है। मूल्यांकन कराने के लिए नैक को सेल्फ स्टडी रिपोर्ट (एसएसआर) भी भेजा जा चुका है। 

'अग्रसेन टाइम्स' से अभिभावकों तक पैठ

प्राचार्या डा. कुमकुम मालवीय ने बताया कि महाविद्यालय की गतिविधियां अभिभावकों तक पहुंचाने के लिए 'अग्रसेन टाइम्स' का प्रकाशन शुरू किया गया है। त्रैमासिक इस अखबार का संचालन छात्राएं स्वयं कर रही हैं। इस मौके पर सह प्रबंधक हरिश कुमार अग्रवाल ने कहा कि अग्रवाल समाज महाविद्यालय के विकास के लिए कटिबद्ध है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस