वाराणसी, जेएनएन। देह व्यापार मामले में मकान मालिक समेत वांछित चार आरोपियों के खिलाफ कैंट पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में मामला दर्ज किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है और सभी जेल में हैं।

प्रभारी निरीक्षक कैंट अश्वनी चतुर्वेदी की तहरीर पर संजय नगर कालोनी निवासी मकान मालिक संजय सिंह उर्फ पप्पू सिंह, करन कुमार, सोनू चौरसिया निवासी वैष्णव नगर व अनुराग मिश्रा निवासी ग्राम मतरी थाना मछलीशहर जौनपुर के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत करवाई की गई है।

नौ फरवरी को पहडिय़ा के संजय नगर कालोनी के एक मकान में सेक्स रैकेट संचालन के मामले में विवाद के बाद पुलिस की छापेमारी के दौरान छत से कूदने के कारण एक युवती की मौत हो गई थी। उस मामले में कैंट पुलिस ने मकान मालिक समेत 16 नामजद के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की थी। नामजद उज्बेकिस्तान निवासी महिला का पासपोर्ट छापेमारी में बरामद हुआ था। उसे भी कैंट पुलिस दिल्ली से गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर वाराणसी लाई थी और 24 फरवरी को न्यायालय में पेश किया गया था।

अधिवक्ता ने दर्ज कराया लूट का मुकदमा

लॉकडाउन के दौरान कचहरी में किसी अन्य अधिवक्ता को काम न करने देने और विरोध पर अपहरण कर मारपीट, चेन छीनने के मामले कैंट पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। भुवनेश्वर नगर कालोनी निवासी अधिवक्ता उमराव सिंह ने इस संबंध में कैंट पुलिस को तहरीर दी थी। इसमें आरोप लगाया था कि भतेरा लोहता निवासी अधिवक्ता अश्वनी राय अपने साथियों के साथ 21 मई को कचहरी परिसर में एक जमानत के सिलसिले थे। अधिवक्ता अश्वनी व अन्य ने उन्हेंं कार्य करने से रोका और विरोध करने पर उनके साथी गायत्री नगर निवासी अधिवक्ता प्रभात सिंह से मारपीट करते हुए उन्हेंं बाइक पर अपह्त कर कचहरी परिसर से बाहर ले जाने लगे। शोर मचाने पर उन्हेंं कूड़ाघर के समीप धक्का देकर गिरा दिया। गले से सोने की चेन छीनकर अश्वनी व उनके साथी राजेश राय फरार हो गये।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021