वाराणसी, जेएनएन। शहर में अवैध निर्माण रोकने में विफल, शिकायतों का समय से निस्तारण नहीं करने और कार्यशैली में सुधार नहीं लाने वाले कई अवर अभियंताओं पर गाज गिरनी तय है। ऐसे जेई को चिह्नित करने के साथ उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। वहीं, अच्छे काम करने वाले जेई को नई जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। पिछले दिनों भवन निर्माण की हुई बैठक में वीडीए उपाध्यक्ष ने कई जेई को चेतावनी देने के साथ ही कार्यप्रणाली में सुधार लाने को कहा था। 

वीडीए उपाध्यक्ष राहुल पांडेय ने जोनल अधिकारी और वार्ड के अवर अभियंताओं को अवैध निर्माण के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। कार्यालय में मिलकर और मोबाइल पर आई शिकायतों पर जेई को त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दे रहे हैं। बावजूद इसके कई जेई अवैध निर्माण रोक नहीं पा रहे हैं या कहीं न कहीं उनकी भूमिका संदिग्ध रह रही है। उन जेई को वीडीए उपाध्यक्ष अंतिम चेतावनी दी है। अवैध निर्माण की सबसे अधिक शिकायत सारनाथ, मुगलसराय, रामनगर, चौक, आदमपुर, जैतपुरा, चेतगंज आदि वार्डों में मिल रही है। इससे नाराज उपाध्यक्ष ने दूसरे वार्ड के जेई को भेजकर अवैध निर्माण को सील कराने के साथ ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कराया। अवैध निर्माण नहीं रोकने पर पिछले दिनों नगवां वार्ड के जेई को हटाने के साथ चौक वार्ड के जेई को अतिरिक्त प्रभार सौंपा है।  

बोले अधिकारी : अवैध निर्माण में संलिप्त जेई को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ कार्रवाई करने के साथ अच्छे काम करने वाले जेई को जिम्मेदारी भी सौंपी जाएगी। साथ ही उनकी क्रास चेकिंग भी कराई जाएगी। -राहुल पांडेय, उपाध्यक्ष वीडीए।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस