वाराणसी : राष्ट्रीय सेवा योजना, एमएमवी बीएचयू की छात्राओं ने रविवार को कार्यक्रम अधिकारी डा. राजीव मिश्र के नेतृत्व में वरिष्ठ नागरिकों के समूह को मोबाइल से कैशलेस पेमेंट करना सिखाया। 'मेरा मोबाइल मेरा बटुआ' अभियान के तहत महमूरगंज स्थित योग नगर, बैंक कालोनी व निराला नगर में रहने वाले सेवानिवृत्त बुजुर्गो को स्मार्ट फोन से भीम एप डाउनलोड कराया। साथ ही साधारण मोबाइल से बिना इंटरनेट के यूएसएस डी केमाध्यम से 'स्टार 99 हैज' नंबर डायल करके मोबाइल बैंकिंग करना सिखाया। छात्रा अमीषा ने वरिष्ठ नागरिकों को भ्रातियों से बचने की सलाह दी। कहा कि मोबाइल से भुगतान करने में किसी तरह का पैसा नहीं कटता बल्कि कई स्कीम में छूट मिलती है। डा. मिश्रा ने बताया कि परिवार के मुखिया अगर मोबाइल बैंकिंग सीख लेते हैं तो पूरा एक परिवार डिजिधन के प्रति जागरूक हो जाएगा। बुजुर्गो को बैंक में लाइन लगाने की से मुक्ति मिलेगी। वित्तीय पारदर्शिता बढ़ेगी और भ्रष्टाचार भी दूर होगा। डा. पीसी शर्मा, काशी नाथ श्रीवास्तव, मुन्नालाल श्रीवास्तव, उमेश्वर प्रसाद, लालता प्रसाद, परमानंद पांडेय, कमलाकात मिश्र, नन्हे श्रीवास्तव, केके मुखर्जी, दयाराम सहित दर्जनों लोगों को अमीषा, शिवानी, निधि, श्रुति, अंकिता, अंशिका, धैर्या, पी सौम्य, पूजा, आयुषी, आस्था, श्रृष्टि ने वित्तीय साक्षरता के बारे में बताया।