जागरण संवाददाता, उन्नाव : कोविड वैक्सीनेशन का जो लक्ष्य दिया गया है उसे हासिल करने के लिए शुरुआती दौर में लोगों में भ्रांतियों के चलते सफलता नहीं मिली। जब प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग अफसरों ने लोगों की भ्रांति दूर कर जागरूक किया तो अब वैक्सीन नहीं मिल रही है। जिससे लक्ष्य हासिल नहीं हो पा रहा है। शुक्रवार को भी अफरातफरी और हंगामा के बीच 4792 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया। प्रतिरक्षण अधिकारी डा. नरेंद्र सिंह ने बताया छात्र स्पेशल बूथ पर 143, महिला अस्पताल में 185, पुरुष अस्पताल और दो शहरी बूथों को मिलाकर 1092 , अचलगंज 561, असोहा 110, बिछिया 844, नवाबगंज 1065 शुक्लागंज 705 का टीकाकरण किया गया।

.......

छात्र स्पेशल और जिला अस्पताल बूथ पर हंगामा

- जिला अस्पताल में परीक्षार्थी छात्रों के लिए स्पेशल वैक्सीनेशन बूथ बनाया गया जहां 143 को टीका लगाया गया। सुबह से ही छात्र स्पेशल बूथ व जिला अस्पताल बूथ खासी भीड़ जमा हो गई। सर्वर स्लो होने से पंजीकरण में देरी के कारण लाइन में लगे लोगों ने शोर शराबा कर हंगामा किया। स्वास्थ्य कर्मियों को भी खरीखोटी सुनाई।

........

बूथ बंद देख निराश लौटे ग्रामीण

- चार ब्लाकों को छोड़ अन्य ब्लाकों में शुक्रवार को टीकाकरण नहीं किया गया। जो ग्रामीण टीका लगवाने पहुंचे वह बूथ बंद देख स्वास्थ्य विभाग को कोसते हुए वापस लौट गए।

........

3500 डोज मिली वैक्सीन, दो ब्लाकों में लगेगा टीका

- प्रतिरक्षण अधिकारी डा. नरेंद्र सिंह ने बताया कि आज 3500 डोज वैक्सीन मिली है, जिससे शनिवार को जिला पुरुष व महिला अस्पताल, शुक्लागंज और छात्र स्पेशल बूथ के अलावा बांगरमऊ और सफीपुर ब्लाक में क्लस्टर टीकाकरण किया जाएगा।

Edited By: Jagran