जागरण संवाददाता, उन्नाव : वैक्सीन कम होने से गुरुवार को सिर्फ जिला अस्पताल में ही वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई अन्य सेंटरों पर पहली डोज का टीका नहीं लगाया गया। जिला अस्पताल में लंबी लाइन लगी रही। लेकिन वैक्सीन समाप्त हो जाने से बड़ी संख्या में लोगों को बिना टीका लगवाए वापस लोटना पड़ा। तीन सेंटरों पर कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगाई। पहली और दूसरी डोज मिलाकर गुरुवार को अफरा तफरी के बीच 1359 लोगों को कोरोना से सुरक्षा के भरोसे का टीका लगाया गया।

गुरुवार को जिले में वैक्सीन बहुत कम थी इससे ब्लाक क्षेत्रों के साथ शहरी स्वास्थ्य केंद्रों में भी टीकाकरण नहीं किया गया। एक मात्र जिला अस्पताल में ही टीकाकरण होने से सुबह से ही यहां बूथ पर खासी भीड़ जमा हो गई लेकिन सीमित वैक्सीन दोपहर बाद समाप्त हो गई मात्र 359 लोगों को कोविशील्ड की पहली डोज लगी। वैक्सीन समाप्त होने से बूथ पर आए सैकड़ों लोगों को लौटना पड़ा। पास पोर्ट धारकों के बूथ पर भी लाइन लगी रही उनमें भी आधा सैकड़ा से अधिक लोगों को लौटना पड़ा। प्रतिरक्षण अधिकारी डा. नरेंद्र सिंह ने बताया कि जिला अस्पताल में 359 लोगों को पहली डोज और शुक्लागंज, सफीपुर और महिला जिला अस्पताल मिलाकर 1007 लोगों को कोवैक्सीन की दूसरी डोज लगाई गई।

-----

22 हजार डोज वैक्सीन मिली, सभी सेंटरों पर होगा टीकाकरण

प्रतिरक्षण अधिकारी डा. नरेंद्र सिंह ने बताया कि गुरुवार को देरशाम 22 हजार डोज वैक्सीन मिल गई है। शुक्रवार को सभी ब्लाक अस्पतालों, क्लस्टर के गांवों , जिला महिला व पुरुष अस्पताल, शुक्लागंज के अलावा शहरी स्वास्थ्य केंद्रों और वार्ड कैंपों में टीकाकरण किया जाएगा।

Edited By: Jagran