उन्नाव, जेएनएन। दुष्कर्म तथा पीड़िता की जलाकर हत्या करने के मामले में उन्नाव जिला प्रशासन ने बड़ा एक्शन लिया है। रविवार को पीड़िता  का शव दफनाने के बाद जिला तथा पुलिस प्रशासन ने इस प्रकरण में ढिलाई बरतने के मामले में एक इंस्पेक्टर, दो दारोगा तथा चार सिपाही को निलंबित किया है।

पीड़िता की सुनवाई न करने के मामले में लापरवाही पर आज यहां बड़ी कार्रवाई की गई। एसपी विक्रांत वीर ने लापरवाही पर कड़ी कार्रवाई की है। पुलिस के मुताबिक इनका निलंबन उन्नाव के थाना बिहार में अपने काम के प्रति लापरवाही बरतने और अपराध नियंत्रण व अभियोगों से संबंधित घटित घटनाओं के प्रति लचर रवैया अपनाने के लिए किया गया है।

रायबरेली कोर्ट में दुष्कर्म मामले की पैरवी करने जा रही युवती को जलाने के मामले में पुलिस की लापरवाही पर उन्नाव में बड़ा एक्शन हुआ है। पीड़िता को आज दफनाने के बाद एसपी विक्रांत वीर एक्शन में आ गए। उन्नाव के बिहार थाना के प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी को सस्पेंड किया गया है। अजय त्रिपाठी के साथ उनकी बीट के दो दारोगा को भी निलंबित कर दिया गया है।

बीट/हल्का प्रभारी दारोगा अरविन्द सिंह रघुवंशी तथा दारोगा श्रीराम तिवारी को निलंबित किया गया है। इनके अलावा बीट आरक्षी अब्दुल वसीम, आरक्षी पंकज यादव, आरक्षी मनोज के साथ आरक्षी संदीप कुमार को कार्य के प्रति लापरवाही, अपराध नियंत्रण/अभियोगों से सम्बंधित घटनाओं के प्रति शिथिलता व स्वेच्छाचारिता को द्रष्टिगत रखते हुये उपरोक्त सभी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित किया गया। 

स्वॉट प्रभारी रहे निरीक्षक विकास पांडेय को बिहार थानाध्यक्ष बनाया गया है। निलंबित बिहार एसओ को गठित एसआईटी (विशेष जांच दल) में शामिल किया गया था। स्वाट प्रभारी रहे विकास पांडेय को एसओ बिहार की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही अनावरण विवेचना शाखा में तैनात निरीक्षक राजेंद्र सिंह को स्वॉट व सर्विलांस प्रभारी बनाया गया है।

एसपी विक्रांत वीर ने बताया कि निलंबित किए गए पुलिस कर्मियों को कार्य के प्रति लापरवाही, अपराध नियंत्रण, घटनाओं व दर्ज एफआईआर में शिथिलिता बरती गई। जिस पर इनके विरुद्ध कार्रवाई की गई है। बताया कि लापरवाह पुलिस कर्मियों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। बताया कि महिलाओं की सुरक्षा के सभी थानों की पुलिस को कड़ी चेतवानी दी गई है। साथ ही रात्रि गश्त, फुट पेट्रोलिंग और पर और गंभीरता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस