जागरण संवाददाता, उन्नाव : डीजल-पेट्रोल मूल्यवृद्धि के विरोध में भारत बंद का खास कुछ असर तो नहीं दिखा पर कांग्रेसियों के प्रदर्शन में लोगों को जाम से जूझना पड़ा। करीब दो घंटे जाम में फंसे लोग पसीना-पसीना रहे। कई एंबुलेंस और स्कूल वाहन भी जाम की भेंट चढ़े रहे। छोटा चौराहा से हरदोई ओवरब्रिज और कलेक्ट्रेट तक वाहनों की लंबी कतारें लगी रहीं।

सोमवार सुबह 11 बजे करीब कांग्रेसी सड़क पर दिखने लगे। दोपहर 11.30 बजे करीब रामलीला मैदान से कांग्रेसी नेता, पदाधिकारी और कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन जुलूस के साथ कलेक्ट्रेट की ओर चल पड़े। इस दौरान जुलूस के आगे चल रहे वाहन तो आसानी से निकल गए पर जो पीछे रह छूटे वाहनों का चक्का जाम हो गया। मुस्तैदी में लगी पुलिस भी जुलूस के चलते जाम के दर्द से लोगों को छुटकारा नहीं दिला सकी। हरदोई ओवरब्रिज से कलेक्ट्रेट की ओर जुलूस के रुख करने के बाद जल्दी निकलने की होड़ में जाम के हालात और बिगड़ गए। छोटा चौराहा से लोकनगर और जामा मस्जिद की ओर भारी संख्या में वाहनों के निकलने से पुलिस कर्मियों को जाम खुलवाने में पसीना बहाना पड़ा। किसी तरह वाहनों को आगे-पीछे कर जाम से छुटकारा पाया गया। इस दौरान करीब दो घंटे तक शहरी जाम से जूझते नजर आए।

Posted By: Jagran