मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, उन्नाव : टेंपो से जा रही तीन महिलाओं पर एक महिला ने जब चोरी करने का आरोप लगाया तो भीड़ ने हंगामा करते हुए उनकी पिटाई में जुट गई। पिटाई में वह तीनों घायल हो गईं। पुलिस तीनों को भीड़ से छुड़ाकर चौकी ले गई और रातभर वहीं बैठाए रखा। इससे उनमें से एक महिला की हालत बिगड़ गई। पुलिस ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया।

शहर के बड़ा चौराहा पर शुक्रवार रात एक आटो में बैठी महिला ने दूसरी महिला पर उसकी पर्स चोरी करने का आरोप लगाया। टेंपो रुका तो महिला हंगामा करने लगी। भीड़ ने चोरी की आरोपित महिला व उसके साथ दो अन्य महिलाओं को पीटना शुरू कर दिया। जब तलाशी ली गई तो एक महिला के पास कुछ रुपये भी बरामद हुए। पुलिस ने महिलाओं को भीड़ से छुड़ाया और तीनों को चौकी लाई। उन तीनों को रातभर चौकी में ही बैठाए रखा गया। पिटाई और दहशत से शनिवार सुबह एक महिला की चौकी में हालत बिगड़ गई और उसकी नाक से खून आने लगा। जिससे वह बेहोश हो गई। यह देख पुलिस कर्मियों के पैरों तले जमीन खिसक गई। कोतवाली से महिला पुलिस बुलाकर उसको जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां डाक्टरों ने उसका इलाज शुरू किया। महिलाओं में से एक ने बताया कि वह तीनों बहनें हैं। वह लोग अपनी लापता मां को खोजने आई थीं। उनकी तलाश में ही वह उन्नाव पहुंच गई। बताया कि वह लोग बनारस के पक्का घाट की निवासी हैं। सदर चौकी इंचार्ज शैलेंद्र सिंह ने बताया कि पर्स चोरी के आरोप में तीन महिलाओं को पकड़ा गया था। मामले को लेकर पूछताछ के लिए उन्हें रोका गया था। एक महिला ने छूटने के चक्कर में अपनी नथ को खींच लिया। जिससे उसकी नाक से खून निकलने लगा। इससे उसे जिला अस्पताल भेजा गया। सदर कोतवाली प्रभारी दिनेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि महिला की हालत बिगड़ गई थी। लेकिन इलाज के बाद उसकी हालत सामान्य हो गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप