जागरण टीम, उन्नाव: आम के पेड़ से एक किशोरी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में लटकता हुआ ग्रामीणों ने देखा। पुलिस ने शव को नीचे उतारकर उसकी शिनाख्त कराई। इसमें उसकी पहचान बिछिया ब्लाक के कस्तूरबा गांधी विद्यालय की छात्रा के रूप में हुई। मृतका के मामा ने कोतवाली में आत्महत्या की तहरीर दी। स्थानीय लोग ने हत्या किये जाने की आशंका जता रहे हैं।

हसनगंज कोतवाली क्षेत्र के रामपुर अखौली गांव के बाहर सुखराम के खेत में लगे आम के पेड़ में एक किशोरी का शव लटकता हुआ मिला। जिसे देख ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतरवाया और उसकी शिनाख्त की कोशिश की। किशोरी के पास मिली पीएनबी की पासबुक से पता चला कि वह बिछिया ब्लाक में कस्तूरबा गांधी की छात्रा है। जिसके बाद पुलिस ने मृतक के मामा सुरेंद्र पुत्र मंगली निवासी गहरा थाना अचलगंज को इसकी सूचना दी। जिस पर मामा ने कोतवाली पहुंचकर भांजी द्वारा आत्महत्या किये जाने की तहरीर पुलिस को दी। मामा ने बताया कि छह साल पहले मृतका के माता-पिता की बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। तभी से वह अपनी नानी शांती के पास रह रही थी। रविवार दोपहर वह नानी को दांत में दर्द होने की बात बताकर उन्नाव दवाई लेने गयी थी। बताया कि उसने बिछिया ब्लाक के कस्तूरबा गांधी विद्यालय में कक्षा आठ तक पढ़ाई की है। बीते दो साल से वह पढ़ाई नहीं कर रही थी। पुलिस ने मामा की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करते हुए शव को पीएम के लिये भेजा है। अपराध निरीक्षक अभिमन्यु मल्ल ने बताया कि किशोरी के मामा ने आत्महत्या की तहरीर दी है, लेकिन अभी मामले की पूरी जांच की जा रही है। उसके पास एक बैंक पासबुक मिली है। पता लगाया जा रहा है कि वह यहां किसके साथ और क्या करने आई थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप