संवाद सहयोगी, पुरवा: शनिवार को मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस पर बारिश से कच्चे घर गिरने, राजस्व, आवास, पेंशन व पुलिस से जुड़े मामलों की भरमार रही। इस दौरान ऐसे गरीब जो अब तक अपना जीवन कच्चे मकान में गुजार रहे थे, बरसात में घर समाप्त होने के बाद वह बेघर हो गए। ऐसे पीड़ितों ने सीडीओ से पक्का आवास दिए जाने की गुहार लगाई। गरीबों ने कहा कि यदि पक्का मकान मिलता है तो वह आजीवन सरकार के शुक्र गुजार रहेंगे। सीडीओ दिव्यांशु पटेल ने शिकायतों से संबंधित विभागों के अधिकारियों को निस्तारण के आदेश दिए। आईं कुल 171 शिकायतों में नौ का मौके पर निस्तारण हुआ। जबकि, अन्य शिकायतों को अगले पांच दिन में निस्तारित करने के आदेश सीडीओ ने दिए। एसडीएम राजेश चौरसिया समेत अन्य मौजूद रहे।

70 वर्षीय बुजुर्गो के बने जाब कार्ड, निर्माण में अनियमितताएं

असोहा ब्लाक के ग्राम धौरहरा के ग्रामीणों में सीताराम, पवन, सूरज, रामप्रसाद, कमलेश आदि ने शिकायत किया कि 5.70 लाख की लागत से बने सामुदायिक शौचालय में बड़े पैमाने पर अनियमितताएं बरती गई। जिससे छत टपक रही है। जबकि सीसी सड़क मानक के विपरीत बन रही है। ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी की मिली भगत से 70 वर्ष के बुजुर्गों के जाब कार्ड बनवा कर उनके खातों में धन भेजकर बंदरबांट किया जा रहा है।

पंचायत भवन निर्माण में गोलमाल

असोहा ब्लाक की ग्राम पंचायत तल्हौरी के सदस्यों में महादेव, संतूलाल, रघुराज, बच्चूलाल ने बताया कि पंचायत भवन निर्माण में स्टोन डस्ट के इस्तेमाल के कारण छत अभी से टपकने लगी है। सीडीओ के यहां शिकायत करने पर फर्जी निस्तारण कर चलता कर दिया गया। शिकायत पर सीडीओ ने जांच बाद कार्रवाई का भरोसा दिया है।

15 दिन बाद भी नहीं बदला जा सका ट्रांसफार्मर

पुरवा विद्युत स्टेशन से जुड़े ग्राम अंगनुआ खेड़ा के सुरेश ने बताया कि 15 दिन पूर्व गांव का ट्रांसफार्मर खराब हो गया। जिससे आपूर्ति बाधित है। शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। वहीं कस्बे के शीतलगंज के दिनेश ने बताया कि दुर्गापुर में वह अपने नए घर का निर्माण करा रहा है लेकिन मकान के ऊपर से हाईटेंशन लाइन निकली है जिससे वह छत नहीं डाल पा रहा है। जब जेई से शिकायत की तो उन्होंने 89 हजार का इस्टीमेट थमाकर कहा कि पहले यह धन जमा करो तभी लाइन हट सकेगी।

एसडीएम ने निस्तारित किए सात मामले

हसनगंज: एसडीएम दिनेश कुमार व तहसीलदार निधि पांडेय के सामने कुल 146 लोगों के शिकायती पत्र आये। जिसमें मौके पर सात मामलों का निस्तारण किया गया।

60 में 11 शिकायतें निस्तारित

पाटन: उपजिलाधिकारी अंकित शुक्ला के सामने 60 शिकायतें आईं। जिनमें 11 की समस्याओं का मौके पर निस्तारण किया गया।

बांगरमऊ और सफीपुर में आए 128 मामलों में नौ का निस्तारण

सफीपुर: बांगरमऊ में उपजिलाधिकारी रश्मि सिंह की अध्यक्षता में कुल 92 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। जिनमें छह का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। वहीं सफीपुर में एसडीएम राजेंद्र कुमार की अध्यक्षता में कुल 36 मामले आए। जिनमें तीन का मौके पर निस्तारण हो सका।

Edited By: Jagran