जागरण संवाददाता, उन्नाव : त्योहार के समय अगर कहीं भी माहौल खराब हुआ और कानून व्यवस्था बिगड़ी तो जिले के डीएम और एसपी जिम्मेदार होंगे। वीडियो कांफ्रेंसिग में मुख्यमंत्री की सीधी चेतावनी मिलने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया है। डीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिग के बाद सभी अधिकारियों की बैठक की और हिदायत दी पुलिस शहर में हर दिन रूट मार्च करेगी। बाजार में अगर कोई आपराधिक घटना हुई तो हल्का दारोगा और सिपाही उसके लिए जिम्मेदार होंगे।

शनिवार रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों के अधिकारियों को कड़ी हिदायत दी थी। कि दीप पर्व पर कहीं भी कानून व्यवस्था नहीं बिगड़नी चाहिए। अस्पतालों में 24 घंटे डॉक्टर और दवा की उपलब्धता रहनी चाहिए। साफ सफाई और स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाए। वीडियो कांफ्रेंसिग के बाद तत्काल डीएम ने रात में ही सभी अधिकारियों की बैठक कर उन्हें मुख्यमंत्री के निर्देशों का पालन करने की कड़ी हिदायत दी। सीएमओ डॉ. कामेंद्र पाल सिंह से कहा कि रेंडम जांच कराऊंगा अगर कहीं डॉक्टर और दवा की उपलब्धता नहीं मिली तो कार्रवाई के लिए तैयार रहें। डीएम ने उन्नाव नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी को चेतावनी दी कि सफाई व्यवस्था तीन दिन में अभियान चलाकर ठीक करा लें उसके बाद गंदगी मिली तो कठोर कार्रवाई की जाएगी। प्रोवेशन अधिकारी से कहा कि 25 अक्टूबर को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ करेंगे उसके पहले व्यापक प्रचार प्रसार करा फार्म भरवाएं। बैठक में सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप