मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, उन्नाव : संसद में कश्मीर से धारा 370 हटाने के निर्णय के बाद प्रशासन सजग हो गया। पूरे प्रदेश में रेड अलर्ट जारी होने के बाद प्रशासन सड़क पर निगाह के लिए उतर आया। कहीं कोई गड़बड़ी न हो इसे लेकर एहतियात के तौर पर शहर से लेकर गांव तक आरएएफ की टुकड़ी ने पैदल मार्च किया। इसके साथ ही एलआइयू को भी सतर्क किया गया। संदिग्धों पर खास नजर रखी गई तो साथ ही पिकेट डयू्टी को भी सतर्क रहने के निर्देश दिए गए।

सोमवार को कश्मीर में धारा 370 हटाने का निर्णय लेने के बाद प्रदेश में रेल अलर्ट जारी कर दिया। इसके साथ ही प्रशासन भी हरकत में आ गया। डीएम, एसपी, एडीएम सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने सड़क पर रूट मार्च कर सुरक्षा का अहसास कराया। शहर में सिटी मजिस्ट्रेट राकेश गुप्ता ने कोतवाली पुलिस के साथ आइबीपी, हुसैननगर, कंजी, धवन रोड, बड़ा चौराहा, छोटा चौराहा में रूट मार्च किया गया। डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय ने आरएएफ के साथ बीघापुर में रूट मार्च किया। पुरवा में एसडीएम ने आरएएफ और पुलिस बल के साथ मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में रूट मार्च किया। सफीपुर में सीओ गौरव त्रिपाठी की अगुवाई में नगर और गांवों में रूट मार्च किया गया। डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय, एसपी एमपी वर्मा ने आरएएफ व पुलिस बल के साथ भगवंतनगर, ऊंचगांव, बक्सर, पाटन में रूट मार्च किया। नगर पंचायत न्योतिनी में एसडीएम प्रदीप कुमार व सीओ भीम कुमार गौतम ने रूट मार्च किया। परियर में डीएम व प्रशासनिक अधिकारियों ने नाव से निरीक्षण किया। गंगा के पार की स्थिति को भी देखा।

----------------

रेलवे स्टेशन पर हुई चेकिग

- उन्नाव रेलवे स्टेशन पर आपीएफ व जीआरपी ने स्टेशन के साथ-साथ ट्रेनों में भी चेकिग की। अचानक चेकिग होने से बिना टिकट वाले यात्री दुबक गए। रेलवे पुलिस ने स्टेशन के बाहर जमा भीड़ को भी हटाया तथा संदिग्ध पर विशेष नजर रखी गई। इसी तरह बस स्टेशन पर भी यात्रियों का सामान चेक किया।

----------------

गांवों में लगाई गई चौपाल

- धारा 370 के फैसले के बाद प्रशासन ने बिहार, पाटन, परियर, भगवंतनगर, पुरवा, मौरावां, हसनगंज, औरास, बांगरमऊ, गंज मुरादाबाद, अचलगंज, बिछिया आदि हर ब्लाक में चौपाल लगाई और लोगों को शांति बनाए रखने के साथ अराजकतत्वों के बारे में जानकारी देने को कहा।

----------------

- कश्मीर में धारा 370 हटाने के फैसले के बाद प्रदेश में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है, इसी के चलते रूट मार्च के साथ गांवों में चौपाल लगाई गई। लोगों को शांति व्यवस्था बनाए रखने को कहा गया। पुलिस को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए हैं।

- प्रेमरंजन सिंह, सीडीओ

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप