जागरण संवाददाता, उन्नाव : चोर-लुटेरों द्वारा लगातार दी जा रही चुनौती के बाद भी पुलिसिग का ढर्रा सुधरने का नाम नहीं ले रहा था। गलियों में गश्त की बात तो दूर रात्रि में चौराहों पर दिखने वाली पुलिस पिछले कुछ महीनों से नदारद थी। चौराहों पर पुलिस को न देखकर चोर-लुटेरे आसानी से अपना काम तमाम कर निकल जाते थे। रविवार को शहर के चौराहों पर लगने वाली पिकेट के हालात उजागर कर जागरण ने आइना दिखाया तो एएएसपी विनोद कुमार पांडेय एक्शन में आ गए। जिसका फर्क भी सोमवार रात ही दिखाई दिया और हर चौराहा पर पुलिस की मुस्तैदी से पसरा सन्नाटा छटा नजर आया।

------------

इन चौराहों पर दिखी पुलिस

- रविवार रात इंदिरा नगर के कुआं वाली गली में अक्सर मौजूद रहने वाली पुलिस नदारद थी। इसी तरह पीडी नगर, गांधी नगर तिराहा, छोटा चौराहा, बड़ा चौराहा, कसाई चौराहा, नगर पालिका, आइबीपी, हरदोई ओवरब्रिज, ओवरब्रिज ढाल, कांशीराम मोड़, कब्बाखेड़ा से छोटा चौराहा जाने वाले मोड़ पर कहीं भी खाकी की मौजूदगी नहीं दिखी। एएसपी का वायरलेस गूंजने के बाद सोमवार रात इन सभी चौराहों पर पुलिस तो दिखी ही, गलियों में पुलिस का सायरन भी लोगों ने सुनाई दिया।

---------------

यहां भी करें नजरें इनायत

- शहर में पिकेट ड्यूटी और गश्त के नाम पर हो रही खानापूरी तो एएसपी की चेतावनी के बाद सुधरी नजर आई पर गांव के हालात अभी भी वैसे ही हैं। पिकेट और पुलिस गश्त के नाम पर हो रही खानापूरी का चोर-लुटेरे पूरा फायदा उठा, लोगों को दर्द दे रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि बिना पुलिस अधिकारियों की डपट के व्यवस्था सुधरने वाली नहीं।

-------------

- वायरलेस सेट पर सभी थानों को आगाह किया गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में पुलिस गश्त और पिकेट ड्यूटी में किसी तरह की लापरवाही न होने पाए। सर्किल के सभी सीओ को गश्त की निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। जो भी ड्यूटी स्थल से नदारद मिला कार्रवाई की जाएगी।

- विनोद कुमार पांडेय, एएसपी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस