मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सूत्र, अचलगंज : पंखे में आ रहे करंट की चपेट में आयी बेटी को बचाने पहुंची मां के ऊपर हड़बड़ी में पंखा ही गिर गया। बेटी तो छूट गयी, लेकिन मां उसकी चपेट में आने से गंभीर रूप से झुलस गयी। परिजन उसे बिछिया सामुदायिक केंद्र ले गये, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अचलगंज थानाक्षेत्र के जरगांव निवासी राम विलास प्रजापति की 11 वर्षीय पुत्री चांदनी का हाथ मंगलवार सुबह घर में चल रहे फर्राटा पंखे में छू गया। जिससे वह करंट की चपेट में आ गयी। बेटी के चिल्लाने पर बर्तन धो रही मां 38 वर्षीय रागिनी दौड़ी और पुत्री को छुड़ाने के प्रयास की हड़बड़ी में पंखा उसके ऊपर ही गिर गया। जिससे वह करंट की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गयी। रागिनी की चीख सुनकर परिजन दौड़े और पंखे का स्विच ऑफ कर उसको छुड़ाया। परिजन उसे तत्काल बिछिया सीएचसी लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने गंभीर अवस्था में उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गयी। रास्ते से ही परिजन शव लेकर घर लौट आये। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बिना ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया। मृतका के तीन बच्चों में शैलेंद्र (18), शालिनी (15) व चांदनी (11) वर्ष का रो-रोकर बुरा हाल है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप