मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, उन्नाव : कानपुर-लखनऊ रेल रूट पर ट्रेनों को रफ्तार देने के लिए सेमी हाईस्पीड ट्रैक तैयार किया जा रहा है। इसके लिए 52 किलो के स्थान पर 60 किलो के स्लीपर और ट्रैक को बिछाया जा रहा है। मंगलवार को उन्नाव रेलवे स्टेशन पर चार घंटे का ब्लाक लेकर ट्रैक के 125 मीटर हिस्से में कार्य कराया गया। इस दौरान रेल यातायात प्रभावित रहा।

सेमी हाईस्पीड ट्रैक बिछने के बाद ट्रेनों की गति कानपुर-लखनऊ रूट पर 110 से बढ़कर 150 किमी प्रति घंटा हो जाएगी। जिसे देखते हुए अलग-अलग रेल खंड में वजनदार स्लीपर और ट्रैक बिछाते हुए लूप लाइन को भी मेनलाइन में बदला जा रहा है। मंगलवार को रेल पथ विभाग के इंजीनियर ने पूर्वाह्न 11:25 से चार घंटे का ब्लाक लिया। लाइन नंबर एक और दो में करीब 125 मीटर ट्रैक-स्लीपर को क्रेन की मदद से बिछाया गया। सीनियर सेक्शन इंजीनियर विकास कुमार और जूनियर इंजीनियर रमेश यादव की निगरानी में करीब 14 कर्मचारी कार्य में रहे। अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे तक रेल यातायात प्रभावित रहा। राप्ती सागर एक्सप्रेस, एलकेएम, गोरखपुर एक्सप्रेस, बरौनी एक्सप्रेस समेत डेढ़ दर्जन ट्रेनों पर असर देखने को मिला। सोनिक के पास अप की ट्रेन को रोकते हुए उसे उन्नाव से कॉशन देकर गंतव्य को रवाना किया गया। बाधित रेल यातायात ने यात्रियों की मुश्किलों को बढ़ाया। सेक्शन के इंजीनियर का कहना था कि हर सेक्शन की लूप लाइन पर यह कार्य होना है। जहां कहीं मेन लाइन में पुराने स्लीपर व ट्रैक हैं उसे भी बदला जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप