जागरण संवाददाता, उन्नाव : पत्नी से विवाद के बाद चार दिन से लापता युवक गुरुवार दोपहर घर पहुंचा और दरवाजा बंदकर पत्नी को कुल्हाड़ी से काट डाला। घटनास्थल पर पत्नी की मौत हो गई। मोहल्ले के लोगों के दौड़ने पर कुल्हाड़ी का खून हाथ से पोछते हुए सभी को जान की धमकी दी और हैंडपंप पर कुल्हाड़ी धोकर भाग निकला। पुलिस को घर से एक खून से सनी चाकू भी मिली है। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति, ससुर व भाई के विरुद्ध दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

अजगैन थाना क्षेत्र के इछौली का मजरा त्रिलोचनखेड़ा गांव निवासी रजेपाल पुत्र सुल्तान की चार साल पहले इसी थाना क्षेत्र के गुरुसहांयखेड़ा गांव निवासी गणेश की 24 वर्षीय बेटी सोनी से शादी हुई थी। पिछले कुछ दिनों से रजेपाल का किसी बात को लेकर पत्नी से विवाद चल रहा था। तीन दिन पहले वह रहस्यमय हालात में घर से लापता हो गया। बुधवार को लखनऊ में परिवार के साथ रहने वाले उसके भाई सूर्यकुमार के पास फोन पहुंचा कि रजेपाल भोगनीपुर कानपुर में एक घर में कूदने की कोशिश में पकड़ा गया, जिसे पुलिस लेकर गई है। भाई सूर्यकुमार भोगनीपुर थाना पहुंचा और रजेपाल के मानसिक बीमार होने की बात कह किसी तरह रात में घर लेकर आया। कुछ देर घर में रुकने के बाद बुधवार रात रजेपाल फिर से भाग निकला। भाई ने उसके ससुरालियों को घटना की जानकारी दी। ससुर गणेश और साला बेता घर पहुंचे और सोनी से बातचीत के बाद रजेपाल को उसके भाई सूर्य कुमार के साथ खोजने निकले। गुरुवार सुबह रजेपाल अचानक घर पहुंचा और कमरे का दरवाजा बंदकर पत्नी सोनी से खाना मांगा। पत्नी खाना परोसती इससे पहले उसने कुल्हाड़ी से उस पर हमला बोल दिया। चाकू से भी रजेपाल ने कई वार किए, जिससे पत्नी की मौके पर मौत हो गई। पत्नी का शोर सुन मोहल्ले के लोग दौड़े तो खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर रजेपाल मोहल्ले के लोगों की ओर लपका। जिससे सभी पीछे हट गए। जान की धमकी देकर हत्यारोपित रजेपाल ने पास लगे हैंडपंप पर कुल्हाड़ी का खून धोया और वहां से भाग निकला। उधर मां की मौत से अनजान तीन साल की बेटी परिजनों को रोता देख बिलखती नजर आई।

-------------

सीओ ने किया घटनास्थल का निरीक्षण

- हत्यारोपित रजेपाल की तलाश में लगे उसके भाई सूर्यकुमार और साले को जैसे ही घटना की भनक लगी, सभी भागकर मौके पर पहुंचे और नजारा देख सन्न रह गए। सूचना पर तहसीलदार लालधर यादव, सीओ भीम कुमार गौतम ने अजगैन पुलिस के साथ घटनास्थल का जायजा लिया, जहां पुलिस को एक खून से सनी चाकू भी मिली। सीओ भीम कुमार गौतम ने बताया कि मृतका के पिता गणेश ने 50 हजार रुपये की मांग पूरी न होने पर पति रजेपाल, ससुर सुल्तान व भाई सूर्यकुमार पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। जांच की जा रही है। शीघ्र हत्यारोपित को गिरफ्तार कर सच सामने लाया जाएगा।

----------

सुराग तलाशने पहुंची फील्ड यूनिट टीम

- सुराग तलाशने के लिए सीओ ने फील्ड यूनिट टीम को बुलाया। टीम के एक्सपर्ट ने कमरे से चाकू बरामद करने के साथ अन्य साक्ष्य इकट्ठा किए। स्निफर डॉग कमरे में सूंघता हुआ बाहर निकला और हैंडपंप के पास कुछ देर रुकने के बाद 100 मीटर दूर जाकर लौट आया। पुलिस के अनुसार हत्यारोपित का भाई सूर्य कुमार लखनऊ में रहता है। वह रजेपाल के लापता होने की सूचना पर आया था, घटना की उसकी व पिता की कितनी संलिप्तता है, इसकी जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran