संवाद सूत्र, बीघापुर : शुक्रवार की दोपहर थाना क्षेत्र की चौकी निबई के दो गांवों में लगी आग से 14 घर जलकर राख हो गए, वहीं दो बकरियां भी जलकर मर गई और एक भैंस झुलस गई। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत कर आग पर काबू पाया। सूचना के बाद भी फायर ब्रिगेड मौके पर नहीं पहुंची।

बदलाखेड़ा मजरे बदियाखेड़ा में दोपहर 12 बजे के करीब रामआसरे के गैर आवासीय मकान में रखे छप्पर में अचानक आग लग गई जो देखते ही देखते विकराल हो गयी। आग की लपटों ने आठ घरों को उसकी चपेट में ले लिया, जिससे सुरेश पुत्र जगन्नाथ, बिटाना पत्नी जगन्नाथ, किशन पुत्र जगन्नाथ, रामआसरे पुत्र मंगल, राजपाल पुत्र बाबूलाल, किशन पुत्र बाबूलाल, चुन्नीलाल पुत्र हनुमान, पार्वती पत्नी रामदयाल के घरों में रखे फूस के छप्पर जलकर राख हो गए और उनके नीचे रखा खाने पीने के खाद्यान्न और गृहस्थी का सारा सामान जल कर राख हो गया। क्षेत्रीय लेखपाल के मुताबिक लगभग दो लाख रुपये से अधिक का लोगों का नुकसान हुआ है। इसी तरह गांव अदनखेड़ा में दोपहर बाद बच्चों के खेल-खेल में जयपाल रैदास के छप्परनुमा बने घर में लगी आग से श्रीपाल, शिवबहादुर, जगपाल, रामबाबू और रमेश के घर जलकर खाक हो गए। इस घटना में रमेश की जहां दो बकरियां जलकर मर गईं। वहीं उसी की एक भैंस व उसका बच्चा भी झुलस गया। दोनों घटनाओं में ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड व स्थानीय थाने को सूचना दी, मौके पर पहुंचे निबई चौकी इंचार्ज राम गोपाल व सिपाहियों ने ग्रामीणों की मदद से काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

Posted By: Jagran