जागरण संवाददाता, उन्नाव : लॉकडाउन में कोई भी भूखा न रहे इसे लेकर प्रशासन तो एक पैर पर खड़ा रहकर इंतजाम कर रहा है, लेकिन स्वयं सेवी संगठन भी ढाल बनकर प्रशासन का साथ दे रहे हैं। सुबह से लेकर रात तक स्वयं सेवी गरीब बेसहारा लोगों की मदद के साथ उन्हें खाना पहुंचा रहे हैं।

शहर में आजाद ग्रुप द्वारा न केवल लोगों को लॉकडाउन में घरों के भीतर रहने कि अपील की जा रही है, बल्कि ग्रुप के सदस्यों ने जनपद में गरीब बेसहारा भूखे लोगों तक भोजन पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। शुक्रवार को भी लोगों को लंच पैकेट व खाद्य सामग्री दी गई। संस्था के मीत अग्निहोत्री, दीपक मोनू दीक्षित, मनीष तिवारी, गोलू मिश्रा, सचिन राजपूत आदि लोग लगातार लोगों तक भोजन पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं। शहर स्थित गुरुद्वारा कमेटी द्वारा शुक्रवार को भी सुबह से शाम तक लोगों को भोजन खिलाया गया। लंगर में आने वाले लोगों के हाथ सैनिटाइजर से साफ कराए गए तथा सोशल डिस्टेंसिग बनाए रखने को कहा गया। शहर में हिदू जागरण मंण द्वारा गरीबों को लौच पैकेट वितरित किए गए। संगठन के प्रांतीय मंत्री विमल द्विवेदी ने लोगों से.पांच अप्रैल को रात नौ बजे लाइट बंदकर नौ मिनट के लिए दीप जलाने को कहा। इस दौरान मंच के जिलाध्यक्ष अजय त्रिवेदी, नगर अध्यक्ष विकास सिंह सेंगर, नगर महमंत्री धर्मेन्द्र शुक्ला, युवा प्रभारी मनीष अवस्थी, नगर उपाध्यक्ष जय शिव अवस्थी, उपाध्यक्ष शिव सेवक त्रिपाठी, उपाध्यक्ष शिवम आजाद, मयंक त्रिपाठी, मोनू सोनी आदि द्वारा अलग अलग स्थानों पर नि:शुल्क भोजन वितरण कराया गया ढ्ढ इसी तरह सोनी सिंह परिहार आदि ने भी लंच पैकेट का वितरण किया। पुरवा में शुक्रवार को नगर के पुरवा-पाटन मार्ग पर कस्टोलवा स्थिति जय गुरुदेव आश्रम में गरीबों को पूड़ी सब्जी बांटी गई। इस दौरान सामाजिक दूरी का पालन करवा ही सामग्री वितरित की गई। आश्रम में कई टुकड़ियों में लगभग एक सैकड़ा से अधिक लोगो को भोजन दिया गया। इस दौरान सियाराम यादव ने व्यवस्था संभाली। सफीपुर में भूखे लोगों को भोजन देने के लिए भाजपा किसान मोर्चा अवध क्षेत्र के पदाधिकारी व नगर पंचायत वार्ड के सभासदों ने मुहिम शुरू की है। शुक्रवार को किसान मोर्चा व वार्ड सभासदों ने लंच पैकेट तैयार कर जरूरतमंद लोगों को वितरित किया। सहायता कोष में दिए 50 हजार

पुरवा: फार्मासिस्ट एसोशिएशन के प्रदेश महामंत्री ने नगर के मोहल्ला राजाबाजार निवासी मंयक वर्मा ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष मे 50 हजार रुपये भेजे है। मयंक ने कहा कि इस आपदा से निपटने के लिये उन्होंने व्यक्तिगत रूप से मदद की शुरुआत कर दी है। जल्द ही एसोसिएशन से भी अलग मदद की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस