जागरण संवाददाता, उन्नाव : गेहूं क्रय केंद्रों पर उठान कम होने से किसान परेशान हैं। एफसीआइ गेहूं की उठान कम कर रही है जिससे केंद्रों पर गेहूं डंप पड़ा है वहीं किसानों का गेहूं खरीदने में दिक्कत आ रही है। किसानों का कहना है कि क्रय केंद्रों पर जगह न होने से उन्हें वापस लौटना पड़ रहा है।

जिले में इस बार 86 क्रय केंद्र बनाए गए हैं, जहां पर इस समय गेहूं की खरीद चल रही है। 19 मई तक गेहूं की खरीद 31 फीसद हो सकी थी। क्रय केंद्रों का हाल यह है कि जगह न होने से किसानों को निराश लौटना पड़ रहा है। बिछिया, अचलगंज, सुमेरपुर, मौरावां, सफीपुर में बुरा हाल है। कटरी के किसान जब वापस होते हैं तो उनका अधिक पैसा बर्बाद होता है। असल में एफसीआइ की जो उठान है वह कमजोर है जिस कारण इस तरह की समस्या आ रही है। किसानों को जगह न होने की बात कहकर लौटा दिया जाता है। जिले के हर एजेंसी के क्रय केंद्र में इस समय गेहूं डंप है। हालांकि एफसीआइ प्रबंधन को निर्देश दिए गए हैं कि वह गेहूं का जल्द उठान कर ले। एफसीआइ के गेहूं उठान पर एक नजर

उन्नाव-----------80.15 एमटी

बांगरमऊ--------170.10 एमटी

नवाबगंज-------85.60 एमटी

अचलंगज-------162.15 एमटी

औरास----------174.10 एमटी

सुमेरपुर---------147.60 एमटी

पीसीएफ--------4002.5 एमटी

एसएफसी-------763.95 एमटी

यूपी एग्रो--------274.80 एमटी

यूपीएसएस-------426.74 एमटी

ककनि----------868.60 एमटी

नैफेड-----------117.50 एमटी

एफसीआइ------152.25 एमटी गेहूं की खरीद को लेकर दिशा-निर्देश दिए गए हैं। एफसीआइ से भी डंप पड़े गेहूं को उठाने के निर्देश दिए गए हैं। किसानों का गेहूं हल हाल में तय समयाविधि के भीतर खरीद लिया जाए। इस पर शासन स्तर से भी निर्देश जारी किए गए हैं। लापरवाही पर सख्त कार्रवाई होगी।

राजीव कुलश्रेष्ठ

जिला विपणन अधिकारी

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran