जागरण संवाददाता, उन्नाव: शैक्षिक गुणवत्ता को सुधारने के तमाम प्रयासों को स्कूल प्रबंध तंत्र ठेंगा दिखाने में लगा है। मंगलवार को राजा शंकर सहाय इंटर कॉलेज के औचक निरीक्षण में कुछ ऐसा ही देखने को मिला। यहां कुछ शिक्षक और कर्मचारी को छोड़ बाकी का स्टाफ गैर हाजिर मिला। प्रधानाचार्य भी अनुपस्थित मिले। जिस पर एक दिन का वेतन काटे जाने की कार्रवाई की गई।

मंगलवार को डीआइओएस राकेश कुमार ने सुबह करीब साढ़े आठ बजे राजा शंकर सहाय इंटर कॉलेज को जांचा। निरीक्षण के दौरान प्रधानाचार्य कृष्ण शंकर तिवारी गैर हाजिर मिले। इसके अलावा 21 प्रवक्ता 16 सहायक शिक्षक, चार बाबू और पांच सहचर की अनुपस्थिति रजिस्टर में मिली। यह सभी बगैर सूचना के अनुपस्थित मिले। सख्त रुख अपनाते हुए डीआइओएस ने एक दिन का वेतन काटा है। वहीं प्रधानाचार्य को नोटिस थमाते हुए स्पष्टीकरण मांगा है। डीआइओएस ने बताया कि प्रधानाचार्य की कुर्सी को संभाल रहे कृष्ण शंकर तिवारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। पद से हटाए जाने की कार्रवाई के लिए आयोग को पत्र लिखा जाएगा। निरीक्षण में कई और कमी मिली हैं। जूनियर से लेकर इंटर तक की कक्षाओं में छात्रों की उपस्थिति भी कम रही। परिसर और पढ़ाई कक्ष में गंदगी फैली थी। शैक्षिक पंचाग के अनुसार पढ़ाई नहीं मिली। राजा शंकर सहाय के बाद अटल बिहारी इंटर कॉलेज का भी मुआयना किया गया। जहां पढ़ाई सुचारु ढंग से मिली। सीसीटीवी की निगरानी में कक्षाएं संचालित मिली।

Posted By: Jagran