सुलतानपुर: व्यवसायी के दो मासूम बेटों का अपहरण कर एक की हत्या व दूसरे को गंभीर रूप से जख्मी करने के मामले की त्वरित जांच के लिए एसपी अनुराग वत्स ने शनिवार को स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम(एसआइटी) का गठन किया है। एसपी देहात के नेतृत्व में पांच सदस्यीय यह टीम 10 दिन में अपहरण व हत्या की विस्तृत रिपोर्ट देगी। एसपी ने कहा कि यह घटना हृदय विदारक है। स्पीड ट्रायल के जरिये दोषियों को जल्द सजा दिलाई जाएगी। इसीलिए विशेष जांच टीम का गठन किया गया है। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने शनिवार को एसपी से फोन पर बात कर पूरे प्रकरण का ब्योरा लिया और पीड़ित परिवार को कोई परेशानी नहीं होने देने व अपराधियों को कड़ी सजा दिलाने की बात को दोहराया।

एसपी ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं इस प्रकरण से बेहद दु:खी हैं। वह लगातार मामले का अपडेट ले रहे हैं। हम सभी की संवेदनाएं परिवार के साथ हैं। लखनऊ में घायल को देखने के लिए उन्होंने वहां के एसपी सिटी को केजीएमयू भेजा था, ताकि इलाज में कोई दिक्कत न होने पाए। उन्होंने कहा कि दिव्यांश के पिता से भी मेरी बात हुई है। बच्चे का सफल ऑपरेशन डॉक्टरों ने किया है। उम्मीद और दुआ है कि वह जल्द स्वस्थ होकर घर लौटेगा। एसआइटी टीम की अगुवाई एसपी देहात करेंगे। इसमें संयुक्त निदेशक अभियोजन एमएन रॉय, इंस्पेक्टर क्राइम ब्रांच आरपी ¨सह, एसएचओ गोसाईंगंज केवी ¨सह व दारोगा केके शर्मा भी शामिल हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप