सुलतानपुर, जागरण टीम। बंधुआकला के दादुपुर निवासी हनुमान सिंह के घर पर शादी की खुशियां मातम में बदल गईं। बेटी की डोली उठने के एक दिन पहले बेटे की अर्थी उठी तो हर ओर चीत्कार सुनाई दी। दरअसल, बीते गुरुवार को हनुमान सिंह के पुत्र सत्य प्रकाश अपनी पत्नी नेहा को डाक्टर को दिखाने आए थे।

वापस लौटते समय अमहट चौराहे के पास तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। इससे दोनों लोग  सड़क पर दूर जा गिरे। आसपास के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। आनन फानन में दोनों को अस्पताल पहुंचाया गया। लेकिन रात में ही जिला अस्पताल में इलाज के दौरान सत्य प्रकाश की मौत हो गई। बतासा जा रहा हे कि शनिवार को उनकी बहन की शादी है।

मातम में बदलीं विवाह की खुशियां : विवाह की तैयारियों के बीच खुशियों को उस समय ग्रहण लग गया, जब सड़क हादसे में इकलौते बेटे के मौत की सूचना परिवारजन को मिली। घर में मंगल गीत की जगह चीत्कारें सुनाई पड़ने लगीं। नगर के मेजरगंज निवासी गल्ला व्यवसायी प्रदीप कुमार कसौंधन की बेटी का विवाह पांच दिसंबर को होना है।

रविवार को गोदभराई व महिला संगीत का आयोजन है। उनके इकलौते पुत्र अरुण गुरुवार की रात बड़ी बहन श्वेता को लेने कार से दो चचेरे भाइयों के साथ गोंडा जा रहे थे। वह नवाबगंज के करीब पहुंचे थे कि सड़क पर अचानक वनरोज आ गया। उससे बचने के प्रयास में कार अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। इससे मौके पर ही अरुण की मौत हाे गई।

अज्ञात वाहन की टक्कर से बाइक सवार की मौत : शुक्रवार की देर शाम घर जा रहे उघरपुर निवासी जोगेन्द्र व दर्जीपुर निवासी आशुतोष की बाइक को अज्ञात वाहन ने पीछे से टक्कर मार दी। इससे दोनों आपस में टकराकर गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने आशुतोष को मृत घोषित कर दिया।

Edited By: Vrinda Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट