सुलतानपुर : शहर के बस अड्डा इलाके में शनिवार को भोर में एक अनियंत्रित ट्रक ने हाईटेंशन बिजली लाइन के पोल को टक्कर मार दी जिससे वह क्षतिग्रस्त हो गया और तार टूट गए। इससे सिविल लाइंस क्षेत्र की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। इससे हजारों की आबादी को विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ा। उन्हें पानी की किल्लत से भी जूझना पड़ा। करीब छह घंटे बाद आपूर्ति बहाल की जा सकी। सिविल लाइंस, बस अड्डा, बढ़ैयावीर, सीताकुंड, दीवानी चौराहा, चर्च कंपाउंड व ऑफिसर कॉलोनी में डाकखाना उपकेंद्र से बिजली आपूर्ति की जाती है। सुबह तकरीबन साढ़े पांच बजे अचानक इन इलाकों की बत्ती गुल हो गई। आधे घंटे बाद भी जब सप्लाई नही बहाल हुई तो उपभोक्ताओं ने इसकी शिकायत विभाग के अधिकारियों से की। जिसके बाद पेट्रोलिग शुरू की गई। सुबह सात बजे के करीब मरम्मत कार्य आरंभ किया गया। अवर अभियंता धर्मनाथ प्रसाद का कहना है कि खंभा पूरी तरह से टूट गया था और तार भी काफी दूर तक क्षतिग्रस्त हो गए थे जिसके चलते खामी दुरुस्त करने में अधिक समय लग गया। सुबह लगभग साढ़े ग्यारह बजे प्रभावित फीडर की आपूर्ति बहाल कर दी गई थी। वहीं, दिनभर शहर में बिजली की आवाजाही लगी रही। सुबह दस से शाम चार बजे के बीच करीब दस बार बिजली कटौती की गई। जिससे पूरे शहर की आबादी परेशान रही।

पोल से गिरा संविदा कर्मी, गंभीर

जिला अस्पताल परिसर स्थित पुराने सीएमओ ऑफिस भवन की बिजली आपूर्ति शनिवार को ठप हो गई थी। शिकायत पर दोपहर बाद डाकखाना सब स्टेशन पर तैनात संविदा बिजली कर्मी जगन्नाथ (50) खामी दुरुस्त करने गए थे। अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे वह पोल पर चढ़कर खामी जांच रहे थे, तभी करंट का जोरदार झटका लगने से वह नीचे गिर गए। जिससे उन्हें गंभीर चोटें आईं। प्राथमिक चिकित्सा के बाद हालत गंभीर बताकर डॉक्टरों ने उनको मेडिकल कॉलेज लखनऊ रेफर कर दिया। एसडीओ नगर प्रशांत गिरि का कहना है कि घटना की जांच कराई जाएगी। पीड़ित कर्मचारी को विभाग की ओर से आर्थिक सहायता दिलाने की संस्तुति की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस