सुलतानपुर, जेएनएन। सुलतानपुर में बेहद फिल्‍मी अंदाज में दो सुपारी किलर गिरफ्तार किए गए। पुलिस को मिली सूचना के बाद बोलेरो में बैठे हत्‍यारों ने फायरिंग शुरू कर दी। सूझबूझ के साथ पुलिस ने दोनों हत्यारों को धर दबोचा, खासबात यह थी कि कांट्रेक्ट किलर को सुपारी जिला जेल में बंद एक अपराधी ने दी थी। हत्यारे अमेठी जिले में जामों में हत्या की वारदात को अंजाम देने जा रहे थे। दोनों को धम्मौर थाना क्षेत्र अंतर्गत खालिसपुर नगर फाटक के पास से गिरफ्तार किया गया है। 

बोलेरो जीप समेत बदमाशों के पास से तमंचे, कारतूस व एडवांस के तौर पर वारदात को अंजाम देने के एवज में दी गई रकम बरामद कर ली गई है। जिले की स्वॉट टीम ने धम्मौर थाने की पुलिस के साथ सुबह बड़ी कामयाबी हासिल की। धम्मौर थानेदार पीके ‍सिंह व स्वॉट टीम प्रभारी रतन शर्मा खालिसपुर नहर फाटक के पास बोलेरो में दो संदिग्ध व्यक्तियों के मौजूद होने की सूचना पर अपनी-अपनी टीमों के साथ सक्रिय हुए। पुलिस को आते देख बोलेरो पर बैठे बदमाश हमलावर हो उठे और फायरिंग शुरू कर दी। रणनीतिपूर्वक दोनों को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया। जिनकी शिनाख्त कुड़वार थाना क्षेत्र अंतर्गत मनियारपुर गांव निवासी हैदर अब्बास गब्बर व गाफिर हसन जैदी उर्फ फारूक के रूप में हुई है।

पुलिस कप्तान अनुराग वत्स ने बताया कि कड़ाई से पूछताछ में बदमाशों ने स्वीकार किया कि दोनों अमेठी के जामो थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति की हत्या के लिए जा रहे थे। जिसकी सुपारी जेल में बंद अमेठी के सूखीबाजगढ़ निवासी उदयभान ङ्क्षसह बबलू ने दी है। पांच लाख रुपये में सौदा तय किया गया और दस हजार की रकम बयाने के तौर पर मिल चुकी है। धम्मौर में दोनों बदमाश कस्तूरी निवासी बजरंग बहादुर सिंह का इंतजार कर रहे थे। बजरंग दोनों बदमाशों को सूखी बाजगढ़ निवासी शैलेंद्र व अजय से मिलवाता। बदमाशों को वे दोनों हत्या किए जाने वाले व्यक्ति की पहचान कराते। जिस व्यक्ति की हत्या की योजना बनाई गई थी उस व्यक्ति की फोटो भी दोनों सुपारी किलर के पास से बरामद कर ली है। 

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप