सुलतानपुर: मुख्यमंत्री के फरमान के बाद माननीयों ने भी विद्यालयों को गोद लिया है। 22 जनप्रतिनिधि एक-एक विद्या मंदिर को संवारेंगे। वहां पर भौतिक संसाधन स्थापित कर निजी विद्यालय की तर्ज पर माडल बनाएंगे।

जिला पंचायत अध्यक्ष ऊषा सिंह प्राथमिक विद्यालय छरौली का विकास कराएंगी। एमएलसी शैलेन्द्र प्रताप सिंह अपने गांव उतुरी के परिषदीय विद्यालय को चमकाएंगे। सुलतानपुर विधायक विनोद सिंह अमेठा, सदर विधायक राज प्रसाद उपाध्याय प्राथमिक विद्यालय इटकौली, कादीपुर विधायक राजेश गौतम टीपी नगरा अनुसूचित बस्ती, लम्भुआ विधायक सीताराम वर्मा घाटमपुर व इसौली विधायक मो. ताहिर खान प्रावि इसौली का कायाकल्प करांगे। करीब पखवारे भर पहले डीएम समेत 86 जनपद व ब्लाक स्तरीय अधिकारियों ने विद्यालय गोद लिए थे।

डीएम रवीश गुप्ता ने भदैंया विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय अभियाकलां को गोद लिया है। एसपी डा. विपिन कुमार मिश्र ने दूबेपुर के प्रावि कुसहा, सीडीओ अतुल वत्स जयसिंहपुर के प्रावि डिहवा व बीएसए ने कूरेभार के प्रावि अंगनाकोल का चयन किया है।

बीईओ से मांगी जा रही रिपोर्ट

गोद लिए विद्यालयों में 100 दिन की कार्ययोजना के तहत भौतिक संसाधन पूर्ण कराना है। इसके लिए खंड शिक्षाधिकारियों की ओर से संबंधित विद्यालयों के संसाधनों की रिपोर्ट मांगी जा रही है। अब तक आई रिपोर्ट में बीएसए की ओर से गोद लिए गए प्रावि अंगनाकोल में छत की मरम्मत और चहारदीवारी का निर्माण होना है। वित्त एवं लेखाधिकारी अमित मोहन मिश्र द्वारा गोद लिए गए विद्यालय इस्माइलपुर में खिड़की, दरवाजों की मरम्मत, एक कमरे की टाइल्स, बच्चों के बैठकर खाने के लिए टिनशेड व अन्य काम करना है। इसी तरह अन्य विद्यालयों में होने वाले कार्याें की सूची तैयार की जा रही है।

-अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने जिन विद्यालयों को गोद लिया है, वहां की सुविधाओं के बारे में खंड शिक्षाधिकारियों से रिपोर्ट मांगी जा रही है। रिपोर्ट मिलते ही शिक्षा निदेशक को भेजी जाएगी।

-दीवान सिंह यादव, बीएसए

Edited By: Jagran