सुलतानपुर : जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा, माता जाकी पार्वती पिता महादेवा..शुक्रवार की सुबह शहर के डेढ़ दर्जन पंडालों में विघ्न विनायक के पूजन-अर्चनके साथ बारह दिवसीय गणेश महोत्सव की विधि-विधान से शुरूआत हुई। गुरुवार की देररात तक श्रद्धालु गणपति बप्पा मोरया..के जयकारे लगाते रहे। चहुंओर भक्तिमय वातावरण व्याप्त रहा। प्रतिमाओं के पंडालों में लाए जाने के बाद सुबह से पूजन-अर्चन का सिलसिला शुरू हो गया है।

नगर में गणेश पूजा महोत्सव की शुरूआत सुबह हो गई। चौक घंटाघर, रुहट्ठा, लखनऊनाका, पुरानी बाजार, पल्टनबाजार, बस स्टेशन, स्टेट बैंक गली, करौंदिया, गोलाघाट, शाहगंज चौराहा समेत करीब डेढ़ दर्जन स्थानों पर गुरुवार की देररात पंडालों में गणेश प्रतिमाएं पहुंच गईं। गाजे-बाजे के साथ भक्तिगीतों पर थिरकते हुए श्रद्धालुओं ने महोत्सव के आगाज पर खूब अबीर-गुलाल उड़ाए। गणपति बप्पा मोरया और विघ्न विनायक की स्तुति देररात तक गूंजती रही। सुबह से ही पूजन एवं अनुष्ठान का क्रम शुरू हो गया। बारह दिनों तक चलने वाले इस महोत्सव के दौरान विविध कार्यक्रमों के आयोजन किए जाएंगे। छह सितंबर को शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। जिसके उपरांत सीताकुंड घाट पर गोमती नदी में परंपरा के अनुसार प्रतिमाओं को विसर्जन होगा।

आकर्षण का केंद्र बने 14 फिट के विनायक

शहर में सबसे पुरानी पूजा समितियों में शुमार है लखनऊ नाका की गणेश पूजा समिति। पंचरास्ता के मुंहाने पर इस बार 14 फिट की विशालकाय गणेश प्रतिमा श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र बनी है। क्षेत्रवासियों के सहयोग से महोत्सव की अवधि में विविध कार्यक्रमों की भी रूपरेखा तय की गई है। इसके अलावा आकर्षक साज-सज्जा की जा रही है।

दुर्गापूजा महोत्सव का कार्यक्रम जारी

केंद्रीय पूजा व्यवस्था समिति ने शहर की ऐतिहासिक दुर्गापूजा के कार्यक्रम की सूची जारी कर दी गई है। समिति अध्यक्ष ओमप्रकाश पांडेय ने बताया कि 21 सितंबर को कलश स्थापना के साथ कार्यक्रमों की शुरूआत होगी। 27 को देवी प्रतिमा पंडालों में स्थापित होंगी। 28 को महाष्टमी व्रत, 29 को महानवमी हवन व 30 सितंबर को विजयदशमी का पर्व मनाया जाएगा। पांच अक्टूबर को भव्य विसर्जन यात्रा शहर में निकलेगी।

Posted By: Jagran