सुलतानपुर, जागरण संवाददाता। Police Encounter in Sultanpur: लम्भुआ,चांदा व कोतवाली देहात की संयुक्त पुलिस टीम ने बीती रात मुठभेड़ में गोकशी के तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें पुलिस की गोली से दो आरोपित घायल भी हुए हैं। चार गाय,तीन मोटर साइकिल व दो तमंचा व खोखा और कारतूस बरामद हुआ है। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में पुलिस टीम ने गोकशो को पकड़ने के लिए अभिसूचना संकलन की कार्रवाई प्रारम्भ की। इसके तंत्र को सक्रिय किया गया।

इस दौरान मंगलवार की रात मुखबिर से सूचना मिली कि कोतवाली लम्भुआ के मदनपुर पनियार के पास कुछ लोग गोवंशीय पशुओं को ले जा रहे हैं। वहां पहुंचने पर तीन लोगों ने पुलिस बल पर जान से मारने की नीयत से फायर किया गया। आत्मरक्षार्थ पुलिस टीम द्वारा भी फायर करने पर अभियुक्तगण सद्दाम पुत्र सुभान उर्फ मोटे व सद्दाम हुसैन पुत्र नफात उल्ला के पैर में गोली लगी, जिन्हें पकड़ लिया गया। इन्हे तत्काल अस्पताल भेजा गया। प्राथमिक पूछताछ में पता चला कि सद्दाम पुत्र सुभान उर्फ मोटे निवासी फरीदीपुर के विरुद्ध थाना गोसाईगंज में महामारी अधिनियम व गोवध निवारण अधिनियम के तहत कई मुकदमे पंजीकृत हैं।

सद्दाम हुसैन पुत्र नफात उल्ला निवासी इटकौली के खिलाफ भी गोवध निवारण अधिनियम व गैंगस्टर अधिनियम के मुकदमे दर्ज हैं । इनका तीसरा साथी मोहम्मद नईम पुत्र अहमद उल्ला निवासी इटकौली है। इसके बारे में अन्य विवरण एकत्र किया जा रहा है। एसपी सोमेन बर्मा ने बताया कि घायलों का इलाज कराने के साथ ही अग्रिम कारवाई की जा रही है। मुठभेड़ में पुलिस टीम को किसी तरह की हानि नहीं पहुंची। उन्होंने बताया कि बीते दिनों लम्भुआ में गोवंशीय पशुओं को वाहन पर लादने का विडियो प्रसारित हुआ था, उसके बाद लगातार कार्रवाई की जा रही है। कुछ दिन पहले भी गो तस्करों को मुठभेड़ में गिरफ्तार किया गया था।

Edited By: Vikas Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट