जासं, बहराइच: मीजेल्स रूबेला टीकाकरण में लापरवाही पर चार ब्लॉकों में तैनात बीसीपीएम ब्लॉक कम्यूनिटी प्रोसेज मैनेजर की सेवा समाप्ति की संस्तुति की गई है। टीकाकरण में फिसड्डी रहने पर 20 एएनएम का वेतन बाधित किया गया है। आशा डायरी अपडेट न करने वाली आशा कार्यकर्ताओं का ब्यौरा भी तलब किया गया है।

जिले में मीजेल्स रूबेला टीकाकरण अभियान एक माह से चल रहा है। अभियान के तहत नौ माह से 15 आयु वर्ग के बच्चों को प्रतिरक्षित किया जाना है। प्रतिरक्षित बच्चों का डाटा पोर्टल पर अपडेट होना है। सीएमओ ने सभी ब्लॉकों के चिकित्साधिकारियों के संग बैठक कर टीकाकरण की समीक्षा किया था। इस दौरान मोतीपुर, चित्तौरा,नवाबगंज व जरवल के बीसीपीएम का कार्य संतोषजनक नहीं पाया गया। इससे पहले भी कई बार चेतावनी के बाद भी कार्य में सुधार न होने पर सीएमओ ने सेवा समाप्ति की संस्तुति की गई है, जबकि टीकाकरण करने की रिपोर्ट अपेक्षित न होने पर 20 एएनएम का वेतन रोका गया है। इन कर्मियों से स्पष्टीकरण तलब किया गया है। सीएमओ डॉ. एके पांडेय ने बताया कि टीकाकरण सरकार की प्राथमिकता में हैं। लापरवाही बरतने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप