जासं, घोरावल/शिवद्वार : घोरावल तहसील क्षेत्र के दो अलग-अलग गांवों में शुक्रवार को बीते 24 घंटे के भीतर हुए सड़क हादसों में दो लोगों की मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों का कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटनाएं करमा थाना क्षेत्र के बागपोखर गांव और घोरावल कोतवाली क्षेत्र के वीर मंदहा गांव में हुई। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया।

करमा थाना क्षेत्र के बागपोखर पंचायत भवन के नजदीक सड़क दुर्घटना में गुरुवार की देर शाम एक व्यक्ति की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक बागपोखर गांव निवासी अमरनाथ (42) साइकिल से कहीं जा रहे थे। इसी दौरान पीछे से तेज गति से आ रही बाइक से धक्का लग गया। घायल अमरनाथ को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घोरावल में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत देखते हुए चिकित्सकों ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहां उपचार के दौरान रात साढ़े दस बजे के लगभग उनकी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि मजदूरी ही उनके जीवकोपार्जन का सहारा थी। इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी की तहरीर पर आरोपित बाइक सवार विवेक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इसी तरह घोरावल कोतवाली क्षेत्र के मंदहा गांव में शुक्रवार को खंभे में उतरे करेंट की चपेट में आने से चरवाहे की मौत हो गई। इस घटना में पांच भेड़ों की भी मौत हो गई। वीरकला निवासी बलवंत पाल (38) भेंड़ चराने गए थे। वहां एक खंभे में करेंट आ रहा था। वहां चरने वाली कुछ भेंड़ें जब गिरकर मरने लगीं तो वह बचाने के लिए पहुंचा। इसी दौरान चपेट में आकर उसकी भी मौत हो गई। कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक सीपी पांडेय ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि खंभे पर इंसुलेटर टूटे हुए थे। इस वजह से करेंट उतर आया था। अगर परिजन तहरीर देते हैं तो विभागीय लापरवाही में मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस